Police caught the Hindu woman who ran away leaving the innocent in the station but the lover barber Irshad Hussain ran away.”

आरोप लग रहे हैं की हिंदुओं की स्त्रियों पर कोई काला इल्म, जादू करवा दिया जाता जिस कारण वो कुछ भी भला बुरा विचारे बिना शैतानों के पीछे पीछे चल देती हैं।

सनातन 🚩समाचार🌎 लगता है कि सोशल मीडिया भी हिंदू लड़कियों के लिए एक अभिशाप बन चुका है। क्योंकि अधिकतर मामलों में लड़कियों की बर्बादी के पीछे सोशल मीडिया भी होता है। सोशल मीडिया पर ही शातिर लोग अपनी असल पहचान छुपाकर हिंदू लड़कियों को निशाना बनाते हैं। और फिर उन्हें उड़ा ले जाते हैं उसके बाद होता है मारपीट और धर्मांतरण का भयावह खेल।

अब फिर से सोशल मीडिया के द्वारा ही एक हिंदू लड़की को उड़ाए जाने की जानकारी मिल रही है कर्नाटका के बंगलुरु से। यहां हुई घटना में एक मां ने ममता को भी शर्मिंदा कर दिया है। दरअसल लोगों के बाल काटने वाले नई इरशाद हुसैन के प्यार में महिला इस कदर पागल हुई कि वह उसके साथ घर से भाग गई और साथ में अपने 4 साल के बेटे को भी ली गई। अपनी पत्नी और बेटे के गायब होने के बाद उसके बदहवास पति ने पुलिस के पास जाकर उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखा दी।

शिकायत दर्ज करने के बाद जब पुलिस ने अपनी जांच आरंभ की तो चौंकाने वाली बातें सामने आईं। पुलिस को जांच से पता चला की बंगलुरु के 1 सैलून में बाल काटने वाले नौशाद हुसैन ने स्वाति नाम की एक महिला को अपने प्रेम जाल में फंसा लिया। पता चला है कि इंस्टाग्राम पर इरशाद हुसैन ने पुणे में रहने वाली स्वाति नाम की इस्त्री से मित्रता की। इसके बाद वह कई दिनों तक आपस में चैटिंग करते रहे। ऐसा करते करते नाई इरशाद हुसैन ने स्वाति को अपने प्रेम जाल के झांसे में ले लिया और उससे कहा कि वह उसके पास आ जाए।

इसके बाद भ्रमित हुई महिला अपने 4 साल के बेटे को पुणे से लेकर बंगलुरु पहुंच गई, और वहां पर इरशाद के साथ रहने लगी। कुछ दिनों बाद इरशाद ने स्वाति से कहा कि मेरे साथ मेरे घर चलो, जोकि उधम सिंह नगर के मजराशिला गदरपुर में है। इरशाद के प्रेम जाल में पूरी तरह से उलझ चुकी स्वाति इस बात के लिए राजी हो गई फिर वह दोनों बेंगलुरु स्टेशन पर पहुंच गए। यहां ममता को शर्मसार करने में वाली बात यह हुई कि स्वाति अपने 4 साल के रोते हुए बेटे को रेलवे स्टेशन पर छोड़कर ट्रेन के द्वारा निषाद के साथ दिल्ली चली।

फिर वहां से वह दोनों इरशाद के घर गदरपुर चले गए। उधर घर से बेटे और पत्नी के गायब होने के बाद स्वाति के पति ने पुणे के पूर्णा थाने में शिकायत दर्ज करवा दी थी। पुलिस को अपनी जांच में पता चला कि स्वाति की सोशल मीडिया के माध्यम से इरशाद से मित्रता हुई थी। पुलिस ने यह भी पता लगा लिया कि इरशाद नाम का नई उधम सिंह नगर के गदरपुर का रहने वाला है। इसका पता चलते ही पुलिस गदरपुर पहुंच गई, और 30 दिसंबर 2022 को स्थानीय पुलिस के सहयोग से इरशाद के घर पर दबिश दे दी।

वहां पर पुलिस ने स्वाति को तो बरामद कर लिया परंतु पुलिस की दबिश का पता चलने पर इरशाद वहां से फरार हो गया। स्वाति से उसके बेटे के बारे में जब पूछा गया तब उसने बताया कि वह अपने बेटे को बेंगलुरु स्टेशन पर ही छोड़ आई थी। 4 साल के मासूम को रेलवे स्टेशन पर छोड़ देने की बात पता चलने पर पुलिस अब सरगर्मी से मासूम बच्चे की तलाश में जुट गई है।

🙏हर बहन बेटी तक ये पहुंचाएं🙏

यहां बड़ा सवाल ये उठता है कि आखिर हिंदुओं की लड़कियां इस तरह की हरकतें क्यों करने लगी हैं ? लगातार हो रही इन घटनाओं के बीच यह बातें भी सामने आ रही हैं कि शातिरों के द्वारा कोई काला जादू टोना जैसी हरकतें भी की जा रही हैं जिससे हिंदू महिलाओं की बुद्धि काम करना बंद कर देती है। ऐसी ही एक लड़की के पिता का वीडियो सनातन 🚩समाचार🌎 के पास है जिसमें वह कह रहा है कि मेरी बेटी के ऊपर कोई जादू टोना कर दिया गया है।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *