“Hindus got drenched in blood amid stone bombs and religious slogans because.”

नाचने गाने में मस्त हिंदुओं की श्री राम नवमी की शोभा यात्राओं पे हमले ही हमले।

सनातन🚩समाचार🌎 यह अकाट्य सत्य बन चुका है कि हिंदुओं की किसी ना किसी शोभायात्रा पर हमले होने ही हैं और हिंदू घायल होने ही हैं। इसका प्रमाण है हिंदुओं की शोभा यात्राओं पर होने वाले हमले। कुछ स्थानों को छोड़कर लगभग हर जगह पर हमलों का सामना करना हिंदुओं की नियति बन चुका है।

जग जाहिर है की हिंदू सभी जगह पर अपने आराध्य भगवान श्री राम जी की को याद करते हुए श्री राम नवमी के उपलक्ष में शोभा यात्राएं निकाला करते हैं इन्हीं यात्राओं पर अब हमलों की खबरें सामने आ रहे हैं।

अभी बात करते हैं पश्चिम बंगाल की 

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में रामनवमी की शोभायात्रा पर भारी पथराव और बमबाजी किए जाने की खबरें मिल रही है। पता चला है की शोभायात्रा पर किए गए हमले में बहुत सारे श्रद्धालुओं को चोटें  आई हैं और कई हिंदुओं की स्थिति गंभीर बताई जा रही है। यह हमला हुआ है 17 अप्रैल 2024 को उस समय जब हिंदू अपने भगवान श्री राम जी को याद करते-करते श्री राम नवमी की शोभायात्रा निकल रहे थे।

यह हमला उस समय बेहद भयावह हो गया जब मजहबी नारों के साथ आसपास की कई ऊंची इमारतों से उन्नमादि लोग शोभायात्रा पर ईंटों और पत्थरों की बौछार करने लगे।इसके बाद शोभायात्रा में के साथ चल रहे लोग चीखते चिल्लाते हुए इधर-उधर बचने के लिए भागने लगे। बता दें कि इस बीच हेलमेट पहने हुए पुलिस वालों ने नीचे से हमला करने वाले उन्नमादियों को समझाने का प्रयास किया किंतु हमलावर बजाएं रुकने के और उग्र हो गए।

मौके की वीडियो में बम फटने को भी देखा जा सकता है। शोभायात्रा पर चारों ओर से हमला किया जा रहा था जिससे श्रद्धालु समझ नहीं पाए कि वह बचने के लिए किसी और भाग कर अपनी जान बचाएं। बता दें की मुर्शिदाबाद में शोभा यात्रा पर हमले के बाद पुलिस के द्वारा कई स्थानों से देसी बम बरामद किए हैं। बताया जा रहा है की शोभायात्रा पर हुए हमले से 20 से अधिक लोग घायल हुए हैं इनमें से कुछ महिलाएं भी हैं।

सभी घायलों को इलाज के लिए मुर्शिदाबाद मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में भर्ती करवाया गया है,  तथा कईयों को निजी अस्पतालों में पहुंचाया गया है। बता दे कि पिछले वर्ष हुए हमले को देखते हुए कोलकाता हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को निर्देश दिया था की सुरक्षा के पक्के प्रबंध किए जाएं जिसके बाद राज्य सरकार ने शोभायात्रा की सुरक्षा के लिए 5000 पुलिसकर्मी तैनात कर दिए थे। किंतु मजहबी उन्नमादियों ने पुलिस की सारी व्यवस्थाओं को ध्वस्त करते हुए शोभा यात्रा पर हमला कर दिया।

एक तरफ जहां हिंदू इस हमले से पीड़ित होकर हाहाकार कर रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर इस मुद्दे पर राजनीति भी चालू हो गई है। भाजपा नेता जगन्नाथ चट्टोपाध्याय ने इस बारे में कहा है कि हमले के पीछे प्रशासनिक लापरवाही मुख्य तौर पर जिम्मेदार है। उन्होंने आरोप लगाया कि पहले से ही हमले की आशंका होने के बावजूद प्रशासनिक अधिकारियों ने सुरक्षा के कोई भी ठोस कदम नहीं उठाया। उन्होंने चुनाव आयोग से दोषी अधिकारी पर कार्रवाई करने की मांग की है।

उधर विश्व हिंदू परिषद ने इस घटना के बारे में कहा है कि बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले के शक्तिपुर में आज रामनवमी की शोभायात्रा पर हुए हमले में राम भक्तों के घायल होने तथा अनेकों के गंभीर होने के समाचार आ रहे हैं। ममता बनर्जी की धमकियों और स्थानीय पुलिस प्रशासन व शासन का नि:सहाय होना किस बात का संकेत है ?  उन्होंने आगे कहा कि बंगाल में केंद्रीय सुरक्षा बल की तैनाती आवश्यक हो गई है ताकि हिंदुओं की रक्षा की जा सके अभिलंब कार्रवाई व सुरक्षा जरूरी है।

विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने भी हमले के बारे में कहा है कि बंगाल के मुर्शिदाबाद में जिहादी बे लगाम है और उनके बीच में राम भक्त संकट में पड़े हैं लगता है ममता दीदी की रामनवमी धमकियां का जिहादियों ने पालन किया है। स्थानीय पुलिस प्रशासन और शासन नि:सहाय व मूक दर्शक हैं। केंद्रीय सुरक्षा बल कमान संभाल कर शेष हिंदुओं की रक्षा करें।

बताने की अवश्यकता नहीं है की पत्थर- बम और मजहबी नारों के बीच खून से लथपथ हिंदू इसलिए हुए क्योंकि हिंदू जान बूझ कर अपनी जनसंख्या घटा चुके हैं।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *