LOVE JIHAD / Kahar Jihad, Arbaaz did not agree to sell, then Sushila and other 2 girls were burnt to death 😨

कब तक आखिर कब तक हिंदुओं की लड़कियों का शिकार करते रहेंगे शैतान ? कब तक मूक दर्शक बने रहेंगे हिंदू ??

सनातन 🚩समाचार🌎 यह एक त्रासदी है की हिंदुस्तान में ही हिंदुओं की बेटियों के साथ इस तरह के घोर अत्याचार हो रहे हैं। और हिंदू भी अपनी इज्ज़तें लुटती देखकर भी धर्म के नाम पर मनोरंजन किए जा रहे हैं

एक बेटी को इसलिए जलाकर मार दिया गया क्योंकि वह बिकने के लिए तैयार नहीं हुई।

मामला झारखंड के साहिबगंज का ,……

प्राप्त विवरण के अनुसार 12 जनवरी 2022 को सुशीला हंसदा नाम की एक 26 वर्षीय महिला का शव जंगल में जला हुआ मिला था। किसी ने उसका कत्ल करके उसके शव को वहां फेंक कर जला दिया था। जले हुए शव को बरामद करने के बाद पुलिस इस जांच में जुट गई कि वह शव किसका है और किसने उसको जलाया है ? ज्यों ज्यों पुलिस इस बारे में जांच पड़ताल करती गई त्यों त्यों उस विभत्स हत्याकांड की परतें खुलती गई। और आखिर पुलिस ने खुलासा कर दिया कि यह मामला लव जिहाद का है।

इसके साथ ही पुलिस ने यह भी पता लगाया कि लव जिहाद करके मासूम लड़कियों को बेच दिया जाता है। पता चला है की इस मामले में शादीशुदा अरबाज ने मृतका सुशीला को बेचने के लिए अपने प्रेम जाल में फंसा लिया था। और जब सुशीला ने अपने को बेचे जाने का विरोध किया तो अरबाज ने अपनी बीवी के साथ मिलकर सुशीला को मार दिया। कत्ल करने के बाद वह सुशीला की लाश को जंगल में फेंक कर उसे आग लगा दी।

प्राप्त अन्य जानकारी के अनुसार यह मामला शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र के अंतर्गत पड़ते गांव सुंदरा फलान का है। यहां पर रहने वाले शादीशुदा अरबाज ने सोशल मीडिया का प्रयोग करके बरहेट थाना क्षेत्र के संजोरी गांव में रहने वाली 26 वर्षीय महिला सुशीला हंसदा से मित्रता कर ली। कुछ दिन चैट करने के बाद अरबाज ने सुशीला को शादी करने का झांसा देकर अपने घर में बुला लिया और फिर 12 जनवरी 2022 को सुशीला उस समय बेहद चौंक गई जब उसने अरबाज को फोन पर किसी से बातें करते हुए सुना।

उसे अरबाज द्वारा की गई बातचीत से पता चल गया कि उसने ₹50000 में उसका कहीं पर सौदा कर दिया है। इसके बाद सुशीला ने अरबाज से इस बारे में पूछा तो अरबाज ने उसे बुरी तरह पीट दिया, और फिर अरबाज ने अपनी बीवी रोहिना और साहिल अंसारी नाम के एक व्यक्ति के साथ मिलकर सुशीला की हत्या कर डाली। हत्या के लिए पहले सुशीला के सर पर लोहे की रॉड से वार किया गया। जब सुशीला बेहोश हो गई तो उसका गला दबाकर उसकी हत्या कर दी गई।

फिर बाद में उसने सुशीला के शव को जंगल में फेंक कर उसे पेट्रोल डाल कर आग लगा दी, और वापस अपने घर लौट गया। 13 जनवरी 2023 को पुलिस ने सुशीला का शव जली हुई अवस्था में जंगल से बरामद कर लिया था। बता दें कि इस मामले में सुशीला के भाई की शिकायत पर शिकारीपाड़ा थाने में केस दर्ज करवाया गया था। शिकायत में सुशीला के भाइ ने अरबाज नाम के एक व्यक्ति पर हत्या में संलिप्त होने की बात कही थी।

तब से ही पुलिस इस हत्याकांड की जांच में लगी हुई थी। पुलिस को जांच पड़ताल करते हुए अरबाज और उसकी बीवी रोहिना की लोकेशन केरल में मिली। जिस पर पुलिस ने छापामारी करते हुए दोनों को केरल से गिरफ्तार कर लिया। इन दोनों की गिरफ्तारी के साथ ही पुलिस को एक और बड़ी सफलता मिली, जिसमें पुलिस के द्वार अरबाज और उसकी बीवी के चंगुल में फंसी हुई दो अन्य लड़कियों को भी आजाद करवा लिया। पता चला है कि इन दोनों लड़कियों को भी अरबाज ने केरल में बेच दिया था।

इस नए खुलासे के बाद जब पुलिस ने अरबाज से पूछताछ की तो पता चला कि अरबाज लड़कियों को लव जिहाद में फंसा कर बेचने का धंधा करता है। पूछताछ में अरबाज ने पुलिस को बताया कि वह लड़कियों को अपने प्यार में फंसा कर उन्हें अलग-अलग स्थानों पर बेचा करता था। पुलिस को अरबाज के द्वारा कुछ अन्य महिलाओं और जनजातीय लड़कियों को बरेली तथा दिल्ली में बेचने की जानकारी भी मिली है। इस बड़े खुलासे के बाद पुलिस ने कई टीमें बनाकर इस मामले की जांच शुरू कर दी है, तथा अरबाज के द्वारा बताए जाने पर पुलिस ने साहिल अंसारी को भी गिरफ्तार कर लिया है।

अब पुलिस द्वारा सरगर्मी से लव जिहाद के जरिए महिलाओं/लड़कियों को बेचने वाले गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश की जा रही है।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *