“Jai Mim people angry with DJ playing in Jai Bheem’s procession attacked, looted, trampled Ambedkar’s portrait.”

जय भीम जय मीम का फट गया ढोल, खुल गई पोल। वैसे ये कोई नई बात नहीं है।

सनातन 🚩समाचार🌎 यह प्रमाणित हो चुका है कि जय भीम जय भीम का नारा केवल और केवल हिंदुओं को विभाजित करने के लिए ही हिंदुद्रिहियों के द्वारा लगाया जा रहा है। जिसके चलते कमजोर हुआ हिंदू समाज अब बार-बार प्रताड़ित होने लगा है।

जय भीम जय मीम का ढोल एक बार फिर से उस समय फूट गया जब जय भीम वाले लोग बहुत आदर से अपनी बारात में अंबेडकर जी का चित्र लेकर चल रहे थे जिसे देखकर गुस्साए मीम वालों ने उन पर हमला कर दिया और अंबेडकर जी की के चित्र को नीचे गिरा कर पैरों तले रौंद डाला।

प्राप्त जानकारी के अनुसार राजस्थान के भरतपुर जिले में दलित समुदाय की शादी पर पर मुस्लिम समाज के लोगों के द्वारा हमला किया गया है। इस घटना में बारात निकासी के दौरान गांव के सरपंच के द्वारा अपने साथियों सहित बारातियों के साथ मारपीट की गई है। दलित समाज की शादी में बवाल तब शुरू हो गया जब गांव की एक लड़की की बारात आई हुई थी, और बारात में डीजे बज रहा था। जिसका मुस्लिम पक्ष के लोगों ने विरोध किया और उन्हें उसे बंद करने के लिए कहा।

अपने विवाह समारोह में खलल पड़ता देखकर जब बारात वालों ने इस बात का विरोध किया तो मामूली कहासुनी के बाद उन पर एकाएक हमला कर दिया गया। पता चला है कि इस झगड़े में 3 लोग घायल हुए हैं जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है। घायलों में से एक की हालत बेहद गंभीर है। यह घटना घटी है कामा थाना क्षेत्र के सबलाना गांव में। जहां अनुसूचित जाति के मुकेश जाटव की बहन आरती की शादी थी। बारात पास ही के नौनेरा नाम के गांव से आई थी। मुकेश के अनुसार सभी बाराती डीजे पर नाचते हुए उनके घर की तरफ आ रहे थे।

तभी रास्ते में सोहेल, नदीम, जमशेद, अफरोज, मौसम मुस्तकीम, धोनी, सब्बा, फैजान, सलमान, मुफ़नेद और मुल्ला ने बारातियों को डीजे बंद करने के लिए कहा जिस पर दोनों पक्षों में बहस बाजी हुई। बता दें कि गांव में आई बारात के लोग अपने साथ बहुत आदर से भीमराव अंबेडकर जी की तस्वीर लेकर जा रहे थे। जिसको देखकर मुस्लिम पक्ष के लोग बेहद गुस्से में आ गए और उसे नीचे फेंक कर पैरों तले रौंद डाला। लड़की के भाई मुकेश ने आरोप लगाते हुए कहा है की जिन लोगों ने हमारे यहां आई हुई बारात पर हमला किया उनके हाथों में लाठी-डंडे फरसा जैसे धारदार हथियार थे।

उसने आगे बताया है कि इसी अफरा-तफरी में दो हमलावर दूल्हे के गले में पड़ी ₹11000 नोटों की माला भी छीन कर ले गए। इसके साथ ही हमलावरों ने वधू पक्ष के मुकेश जाटव से मारपीट करते हुए उसकी जेब से ₹32000 भी निकाल लिए। जब वहां पर कई लोग कट्ठा हो गए हैं तो पुलिस में शिकायत करने पर मार देने की धमकियां देकर हमलावर वहां से भाग गए। यह भी आरोप लगाया जा रहा है कि मुस्लिम पक्ष के हमलावरों ने मारपीट करते हुए बारातियों द्वारा पहने गए सोने के गहने भी लूट लिए। इस अवसर पर दुल्हन के भाई ने कहां है कि मुस्लिम समाज के लोग हमेशा ऐसा ही करते हैं ।

कमजोर हुए हिंदुओं पे आफत

जब भी हमारी कोई शादी होती है यह लोग इसी तरह से हम पर हमला करके हमारे साथ मारपीट करते रहते हैं। मुस्लिम पक्ष के द्वारा किए गए हमले से मुकेश जाटव खुद भी घायल हुए हैं। इस घटना के बाद पीड़ित पक्ष के द्वारा पुलिस को शिकायत देने के बाद पुलिस ने मुस्लिम पक्ष के आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 323, 148, 346, 379, 336, 504, 506 के साथ-साथ एससी एसटी एक्ट के अंतर्गत मामला दर्ज कर लिया है। और अब पुलिस फरार हुए आरोपियों की तलाश कर रही है।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *