Meat cooked bones thrown in Shri Hanuman temple, when it came to know, the police caught demon Nazim and Zakir.”

मंदिरों में जाते नहीं देख रेख करते नहीं फिर ये सब तो होगा ही।

सनातन🚩समाचार🌎 शास्त्रों में वर्णित कथाओं में अक्सर ऐसे विवरण मिल जाते हैं जिनमें दानवों के द्वारा यज्ञ मंडपों में और मंदिरों में मांस और हड्डियां फैकी जाती थीं। लगता है कि वही दानव अब फिर से पैदा हो गए हैं, जो अब मंदिरों में मांस और हड्डियां फेंक रहे हैं। राजस्थान में एक बार फिर से धर्म पर आघात करने वाली यह घटना सामने आई है। इस प्रदेश के उदयपुर के श्री हनुमान मंदिर की छत पर दो मुस्लिम व्यक्तियों ने मांस पकाया है।

हर रोज मांस पका कर खाते थे

आरोप है की इन दानवों ने मंदिर में मांस पकाकर खाया और फिर उसकी हड्डियों को पवित्र मंदिर के परिसर में ही फेंक दिया। यह घटना 6 मई 2022 को घटी है। जब लोगों को इस कुकृत्य का पता चला तो छत पर गैस सिलेंडर और चूल्हे पर बर्तन रखा हुआ मिला। मौके पर उपस्थित लोगों ने जब बर्तन खोलकर देखा तो उसमें मांस जैसा ही कुछ पक रहा था। मिली और जानकारी के अनुसार यह आरोपी लगभग 15 दिनों से मंदिर की छत पर ही रह रहे थे, तथा इस दौरान वह हर रोज वहां पर मांस पका कर खाते थे। जब इसका पता लोगों को चला तो उन्होंने तुरंत इसकी जानकारी अपने पार्षद कुसुम पवार को दी। सूचना मिलने पर पार्षद मौके पर पहुंचे और चूल्हे पर पड़ा हुआ सारा अपवित्र सामान सड़क पर फिंकवा दिया।

मंदिर से जाने को कहा परंतु नहीं माने

इसके बाद सारे मंदिर को धो कर उसका शुद्धिकरण भी किया गया। इस कुकृत्य को करने वाले दोनों दानवों के नाम हैं नाजिम शेख और जाकिर हुसैन। इनके खिलाफ जब पुलिस को शिकायत दी गई तो पुलिस ने इन दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। स्थानीय लोगों के अनुसार ये दोनो सड़क बनाने वाले मजदूर हैं जो बिहार के रहने वाले हैं। लोगों के अनुसार इन दोनों को पहले भी मंदिर परिसर से चले जाने को कहा गया था परंतु वे नहीं माने और लगातार मंदिर की छत पर यह कुकृत्य करते रहे। इस बारे में जब नगर निगम और स्मार्ट सिटी के अधिकारियों से इन दो मजदूरों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने स्पष्ट मना किया कि वह इन्हें नहीं पहचानते हैं।

बता दें कि हनुमान जी का ये मंदिर अलीपुर इलाके के सामुदायिक भवन के पास ही बना हुआ है। इस घटना की जानकारी मिलने के बाद भारी संख्या में लोग मंदिर में इकट्ठा हो गए और इस कुकृत्य का विरोध करने लगे। पुलिस के पास इस मामले की शिकायत स्थानीय पार्षद कुसुम पवार ने की है। डीएसपी जनरल सिंह ने इस बारे में बताया है कि पार्षद कुसुम पवार द्वारा दी गई शिकायत के बाद दोनों आरोपियों को पकड़ लिया गया है। एक अन्य सूत्र से मिली जानकारी के अनुसार इन पकड़े गए आरोपियों ने मंदिर की छत पर मांस बनाना और खाना स्वीकार कर लिया है। भागलपुर थाने में इन दोनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है तथा इनके खिलाफ 295 के अंतर्गत कार्रवाई की गई है।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *