Kafir Dalit could not save the shame of “Jai Bhim Jai Mim” slogan, Haji Sahib gave goosebumps punishment.”

बार-बार जय भीम जय मीम का ढोल फूट रहा है परंतु इन राजनीतिक गिद्धों पर कोई असर नहीं।

सनातन 🚩समाचार🌎 यह एक विडंबना ही है कि जय भीम जय मीम के जोर शोर से नारे लगाने वाले उस समय पता नहीं कहां गायब हो जाते हैं जब किसी मीम वादी के द्वारा किसी भीम वादी के ऊपर जुल्म किया जाता है। परंतु इस बार जो हुआ है उसमे सारी हदें पार कर दी गई हैं।

इस घटना में एक दलित युवक को मुस्लिम विधवा स्त्री से शादी करने का भयंकर दंड मिला है। घटना महाराष्ट्र के पुणे की है जहां के डोंट क्षेत्र में रहने वाले एक दलित युवक ने सन 2018 में एक मुस्लिम महिला से विवाह किया था। बता दें कि यह मुस्लिम विधवा की दो छोटी बच्चियां भी थीं। शादी के बाद दलित युवक काम की तलाश में सन 2020 में अपने परिवार के साथ पुणे चला गया। वहां उसने कुम्भरगल्ली में एक मकान किराए पर ले लिया।

वहां रहते हुए पति पत्नी दोनों मजदूरी करके अपना परिवार चला रहे थे। पीड़ित युवक के अनुसार लगभग डेढ़ साल बाद उसी मकान में रहने वाले आसिफ शेख नाम के एक व्यक्ति ने उसे और उसकी पत्नी को परेशान करना चालू कर दिया। अपने साथ हुए अत्याचार के बारे में इस दलित युवक ने गत 16 दिसंबर 2022 को पुलिस में एक शिकायत दी है। जिसमें उसने आरोप लगाया है की आसिफ उसकी पत्नी को अक्सर छेड़ता रहता था और उसे एक हिंदू से शादी करने के लिए झिड़के भी देता था।

पीड़ित दलित के अनुसार जब आसिफ से इस बारे में बात की तो उसने उससे गाली गलौज करते हुए कहा कि तू काफिर है। तेरी हिम्मत कैसे हुई किसी मुस्लिम औरत से शादी करने की। साथ ही आसिफ ने उसे जान से मार देने की धमकी भी दी। पीड़ित के अनुसार लगातार इसी तरह परेशान करने के बाद आखिर आसिफ ने उसे स्पष्ट कह दिया किया तो मुसलमान बन जा या अपनी पत्नी को छोड़ दे। पीड़ित ने अपनी शिकायत में आगे कहा है कि एक दिन आसिफ हाजी साहब कुमेल कुरेशी को अपने साथ लेकर 3 अक्टूबर 2022 को उसके घर में घुस आया।

उन दोनों ने उसके साथ मारपीट करते हुए कहा कि तूने एक मुस्लिम औरत से शादी क्यों की है ? पीड़ित के अनुसार उन दोनों ने उसकी पत्नी और उसकी दोनों बेटियों को भी पीटा। 3 घंटे तक उनकी पिटाई की जाती रही उसके बाद उन्हें शादी तोड़ने के लिए कह कर वे दोनों चले गए। शिकायत में आगे कहा गया है कि हाजी साहब उसकी पत्नी को भी फटकार कि उसने एक काफिर से शादी क्यों की है ? और यह भी कहा गया कि काफिर को छोड़ दे तेरी शादी किसी मुस्लिम से करवा देंगे।

अपनी शिकायत में पीड़ित में रोंगटे खड़े कर देने वाली घटना भी बताई है, जिसके अनुसार 14 अक्टूबर 2022 को आसिफ और हाजी साहब अपने साथ एक मुसलमान डॉक्टर को लेकर उसके घर में जबरन घुस गए। उन्होंने उसकी पत्नी और बच्चों को बाहर निकाल दिया। इसके बाद आसिफ और हाजी साहब ने मारपीट करते हुए उसके कपड़े उतार दिए। इसके बाद उनके साथ आए हुए एक मुसलमान डॉक्टर ने उसका खतना कर दिया। पीड़ित के अनुसार इस दौरान हाजी कोई इस्लामिक लाइने भी बोलता रहा।

देखें खास वीडियो अलग से।

पीड़ित के अनुसार वह बहुत डरा हुआ था। उसने उनकी बहुत खुशामदें की कि ऐसा मत करो परंतु उन्होंने मेरी एक नहीं सुनी। यह तीनों कहते रहे कि देखते हैं कि तू इस्लाम कैसे नहीं कबूलेगा ? पीड़ित दलित युवक ने अपनी शिकायत में यह भी कहा है कि मेरा जबरन खतना करने के बाद यह लोग उसका आधार कार्ड और राशन कार्ड भी छीन कर ले गए हैं और साथ ही उन्होंने खतना करने की वीडियो भी बनाई है।

यह सनसनीखेज शिकायत मिलने पर पुलिस ने आसिफ, हाजी साहब और एक अन्य व्यक्ति के खिलाफ IPC की धाराएं 452, 324, 298, 504, 323, 34, 506 और 295A के साथ ही एससी एसटी एक्ट के अनुसार एफ आई आर दर्ज कर ली हैm पुलिस के अनुसार इस मामले की जांच करने के बाद कानून के अनुसार बनती कार्रवाई की जाएगी।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *