“In Sri Haridwar, take money, become a Christian, cross being worn, police caught missionaries Stella, Jabiston and Ginni.”

मौज मस्ती में डूबे हुए हिंदुओं पर गिद्ध मंडरा रहे हैं। करवा रहे मतांतरण।

सनातन 🚩समाचार🌎 बताने की आवश्यकता नहीं है कि श्री हरिद्वार हिंदुओ की श्रद्धा का केंद्र है। दुनिया में किसी भी स्थान पर रहने वाला हिंदू श्री हरिद्वार में जाकर श्री गंगा जी में स्नान करना अवश्य चाहता है। और उसकी यह कामना रहती है की उसकी मृत्यु के बाद उसकी अस्थियां श्री हरिद्वार में स्थित कनखल में विसर्जित की जाएं। परंतु यह एक अकाट्य और दुखद सत्य है कि आजकल हिंदुओं का यह बड़ा तीर्थ स्थल भी विधर्मियों की चपेट में आ चुका है।

कुछ महीने पहले श्री हरिद्वार में ही गंगा जी के ऊपर बने हुए पुल पर सर तन से जुदा के नारे लगाए जा चुके हैं। फिर उसके बाद उत्तराखंड मैं पशु हत्या पर पाबंदी के बावजूद श्री हरिद्वार जिला के ही एक इलाके में अदालत से अनुमति लेकर ईद के दिन कुर्बानी/पशु वध किए गए थे। और अब हिंदुओं के इसी श्री हरिद्वार से एक और बेहद चौंकाने वाली खबर सामने आई है।

श्री हरिद्वार के शिव डेल स्कूल के सामने वाली गली में उस समय बेहद तनाव का वातावरण बन गया जब एक व्यक्ति जोर-जोर से कहता नजर आया कि मैं पैसे नहीं लूंगा, मैं ईसाई नहीं बनूंगा। कुछ देर बाद इकठ्ठा हुए लोगों ने उसे समझा-बुझाकर वहां से भेज दिया। दरअसल यह मामला ईसाई मिशनरियों के द्वारा लालच देकर एक हिंदू को ईसाई बनाने का था।


इस बारे में सचिन सैनी नाम के एक व्यक्ति ने पुलिस से शिकायत करते हुए कहा है की 7 जनवरी 2030 को वह किसी काम से रोशनाबाद इलाके में पढ़ते समाज कल्याण ऑफिस में गया था। वहां पर मुझे दिनेश नाम का एक व्यक्ति मिला। जिसने मेरे साथ मीठी-मीठी बातें करते हुए मुझे बताया की मेरे घर में प्रत्येक सप्ताह सत्संग होता है। तथा उसने मुझे भी सत्संग में आने के लिए कहा। सचिन के अनुसार दिनेश ने उसे भरोसा दिलाया था कि उसके घर में होने वाले सत्संग से तुम्हारी सभी परेशानियां दूर हो जाएंगी।

पुलिस को दी गई शिकायत

सचिन के अनुसार की दिनेश की बातों पर भरोसा करके वह अगले दिन रविवार को उसके घर चला गया। पीड़ित ने बताया है कि दिनेश का घर जगजीतपुर के शिवदेव स्कूल के सामने वाली गली में है। जब मैं दिनेश के घर गया तो वहां पर पहले से ही दो पुरुष और एक महिला मौजूद थे। दिनेश ने उनसे परिचय करवाते हुए उनके नाम स्टैला, जैबिस्टन और गिन्नी बताए। पीड़ित सचिन सैनी के अनुसार कुछ देर इधर-उधर की बातें करने के बाद वह तीनों मुझे अकेले में ले गए और मुझसे कहा की तुम्हें एक, दो लाख रुपए मिल जाएंगे अगर तुम ईसाई बन जाओ।

इसी बीच चिकनी चुपड़ी बातें करते हुए स्टेला ने उसे 5 – 6 ईसाइयों वाले क्रॉस दे दिए, तथा उसे कहा कि घर में जाकर सब के गले में यह पहना देना। भुक्तभोगी सचिन के अनुसार इस बीच उनकी बातों से मैं समझ गया था कि यह लोग मुझे लालच देकर मुझे तथा मेरे परिवार को ईसाई बना देना चाहते हैं। इसके बाद जब मैंने उनसे स्पष्ट कह दिया कि मैं हिंदू हूं किसी भी कीमत पर अपना धर्म बदल कर ईसाई नहीं बनूंगा। तो वह मेरे साथ बहस बाजी करते हुए झगड़ा करने लगे।

हो रहे शोर-शराबे को सुनकर वहां पर कई लोग जमा हो गए तथा मुझे शांत होकर वहां से चले जाने को कहने लगे। परंतु इसी बीच किसी ने पुलिस को सूचना दे दी और पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। धर्म नगरी श्री हरिद्वार में धर्मांतरण के इस खेल की सूचना मिलने पर बजरंग दल के लोग भी पहुंच गए और जमकर धर्मांतरण के खिलाफ नारेबाजी की। बता दें कि यह घटना श्री हरिद्वार के विश्व प्रसिद्ध क्षेत्र कनखल थाना क्षेत्र की है, और 8 जनवरी 2023 दिन रविवार की है।

पता चला है कि आरोपियों में से एक पंजाब का है तथा दूसरा तमिलनाडु का रहने वाला है। हिंदू संगठन के अनुसार इस मामले में शामिल पंजाब के एक आरोपी से पंजाब में बहुत तेजी से हो रहे धर्म परिवर्तन के खेल का खुलासा हो सकता है। सूचना मिलने पर भाजपा पार्षद लोकेश पाल भी अपने साथियों सहित पुलिस चौकी में पहुंच गए। पार्षद ने आरोप लगाया कि लोगों को बहला-फुसलाकर धर्मांतरण करवाया जा रहा है।

पुलिस चौकी पर हो रहे हैं हंगामे के बीच आई एस ओ नरेश राठौड़ ने बताया की पकड़े गए आरोपियों में से एक तमिलनाडु का और एक पंजाब का रहने वाला है। यह लोग कई सालों से पहाड़ियों बाजार कनखल में रह रहे है l पीड़ित सचिन सैनी द्वारा शिकायत मिलने पर पुलिस ने तीन आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज करके उन्हें हिरासत में ले लिया है। हिरासत में लिए गए आरोपियों में से एक महिला भी है।

मौके की वीडियो

सनातन 🚩समाचार🌎 यहां पर सवाल खड़ा करता है की श्री हरिद्वार में रहने वाले करोड़ों रुपए की संपत्तियों के मालिक मठाधीश, अखाड़ों वाले और धर्म प्रचारक आखिर क्या कर रहे हैं ? क्या कारण हैं कि वह अपनी नाक के नीचे इस हो रहे गोरखधंधे को रोक नहीं रहे हैं ?

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *