Hijab burqa, religion is peaceful, Hindus who drink cow’s urine…..will cut their throat, head somewhere else torso somewhere else.

मौलाना साहब की तकरीर से तो यही लग रहा है की मजहब बहुत ज्यादाअमनपसंद है।

बेहद अमनपसंद तकरीर

सनातन🚩समाचार🌎 लगता है आजकल हिंदुस्तान में गला काट देने की बातें करने वालों में एक होड़ सी मच गई है। शायद यह गला काट देने वाले दुनिया को बता देना चाहते हैं कि मैं ही गला काटने में सबसे माहिर हूं। लगभग 500 वर्षों से दुनिया भर के हिंदू ज्ञानवापी परिसर में भगवान भोलेनाथ के विराजमान होने की बातें करते आ रहे हैं, और अब जबकि वहां पर आधिकारिक रूप से सर्वे हो चुका है, उस सर्वे में पाया गया कि वहां पर एक शिवलिंग है, परंतु मुस्लिम पक्ष इसे फव्वारा मानता है। अब ये अदालत में तय होगा कि वह वास्तव में भगवान भोलेनाथ जी का स्वरुप है या फव्वारा ? इस सबके बीच सोशल मीडिया पर और न्यूज़ चैनलों पर बहुत जबरदस्त वाद विवाद चल रहा है।

मैंने वही कहा है जो उनकी किताब में लिखा हुआ है,

इसी के चलते एक लाइव डिबेट में बीजेपी की प्रवक्ता नूपुर शर्मा ने जो बातें कहीं उस पर काफी हो हल्ला हो रहा है। बता दें की अपने बयान के बारे में नूपुर शर्मा ने कहा है कि मैंने वही कहा है जो उनकी किताब में लिखा हुआ है, मैंने अपने मन से तो कुछ भी नहीं कहा है। इसके साथ ही अब सोशल मीडिया पर ऐसे बहुत सारे वीडियो वायरल हो रहे हैं जिनमें इस्लाम के बड़े-बड़े स्कॉलर वही बात बता रहे हैं जो नूपुर शर्मा ने एक लाइव डिबेट में बताई है, परंतु फिर भी मुस्लिम लोग इसे नबी की शान में गुस्ताखी बताते हुए सर तन से जुदा तन सर से जुदा वाली बातें कर रहे हैं। हो सकता है वह सही हों।

स्पष्ट है कि उसके इरादे बहुत ज्यादा खतरनाक हैं

इस सारे बवाल के बीच जम्मू के भद्रवाह की एक मस्जिद में ऐसा भाषण दिया गया है जो पूरी तरह से हिंदुओं के प्रति नफरत से भरा हुआ है। इस भाषण में कोई मौलाना जी गले काट देने की बात करते हुए कह रहे हैं कि इस्लाम एक अमनपसंद मजहब है। उनके द्वारा कही गई बातों से स्पष्ट है कि उसके इरादे बहुत ज्यादा खतरनाक हैं। यह सारी भाषण बाजी एक भारी भीड़ के सामने की गई है तथा इस तकरीर के दौरान मस्जिद के आसपास के घरों पर भी लोग खड़े हुए थे। अपने भाषण में मौलाना ने खुलकर धमकी दी है कि अजान और हिजाब की बात हुई तो इसका अंजाम बुरे होंगे। इस तकरीर में मौलाना ने हिंदुओं को जी भर कर गालियां दी हैं।

भीड़ चिल्ला पड़ी – सर तन से जुदा तन सर से जुदा।

इसने भी नूपुर शर्मा का गला काटने को कहा है। जिस समय यह मौलाना अमन वाला भाषण दे रहा था उस समय बीच-बीच में अल्लाह हू अकबर और या रसूल के नारे भी लगते रहे। जम्मू के अंतर्गत पड़ती इस मस्जिद में केवल नूपुर शर्मा को ही नहीं बल्कि उसके समर्थन में लिखने या बोलने वालों का भी गला काटने की धमकी दी गई है। मौलाना ने जब सर काटने की बात का ऐलान किया तो उसके आसपास खड़ी भीड़ चिल्ला पड़ी – सर तन से जुदा तन सर से जुदा। बता दें कि यह मस्जिद पाकिस्तान या कश्मीर में नहीं है बल्कि जम्मू के एक इलाके में है। अपनी तकरीर में इस मौलाना ने सरेआम लाउडस्पीकर से चिल्लाते हुए कहा है कि हिंदू गाय का पेशाब पीने वाला है।

हमारी दहशत है। इनको हवा हमारी बरकत से मिलती है।

गाय का पेशाब पीने वालों का गोबर के अंदर नहाने वालों की हैसियत ही क्या है दुनिया में ? इनको जो रिस्क मिलता है हमारी दहशत से मिलता है। इनको जो हवा मिलती है हमारी बरकत से मिलती है। इनको जो दरिया से पानी मिलता है वह हमारी बरकत से मिलता है, वरना इनका वजूद क्या है ? बार बार गला काट देने की धमकियां देते हुए इस मौलाना ने कहा है कि भाइयों वक्त हमें सर कलम करना भी सिखाता है। इसलिए मेरी बातों को जहन में बिठा दो कि हम खामोश तब तक हैं जब तक कि हमारा बर्दाश्त का टाइम है। बर्दाश्त से बाहर निकल गए तो फिर नूपुर शर्मा तो क्या अशीष कोहली कुत्ता …….. और फिर गंदी गंदी गालियां देते हुए उसने आगे कहा की इनके सर कहीं और धड़ कहीं और मिलेंगे।

उपस्थित भीड़ में भी जोश बढ़ता गया, तकबीर

मजे की बात यह है कि यह मौलाना अपनी तकरीर में यह भी कह रहा है कि “हमारा मजहब अमन पसंद है” ज्यों ज्यों यह मौलाना अपने भाषण में शांति की बातें करता गया त्यों त्यों वहां पर उपस्थित भीड़ में भी जोश बढ़ता गया और भीड़ नारा ए तकबीर अल्लाह हू अकबर और इंशाल्लाह या रसूल के नारे भी लगाते गई। इस मौलाना ने यह भी कहा कि हम इंसाफ पसंद हैं हमारा मजहब अमन पसंद है। प्रशासन को चाहिए कि जो अजान के खिलाफ बोले उसका गला पकड़े। जो पर्दे के खिलाफ बोले उसका गला पकड़े। यह गला नहीं पकड़ सकते तो हम गला काटने के लिए तैयार हैं। बेहद शांतिप्रिय इस मोलाना ने आगे कहा है कि नबी के कलमें पढ़ने वाला मुसलमान खुद मैदान में आए।

बेहद अमनपसंद भाषण

यह भगवे हमारे दुश्मन RSS bhi हमारी दुश्मन तो मैं इसलिए अंजुमन इस्लामिया की तरफ से तमाम आवाम का शुक्रिया करता हूं। मैं इनको  बताना चाहता हूं कि सबसे कम दर्जे का मुसलमान कितना ईमान रखता है कि दुनिया के किसी भी ताकत गुस्ताखे  नबी का सर कलम कर सकता है। इस भाषणबाजी के बाद जम्मू पुलिस ने इस मौलाना के खिलाफ 92/2022 , 295A, 506 के अंतर्गत भद्रवाह पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज करने की औपचारिकता भी पूरी की है।


हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *