“He dared to sell nude paintings of mother Radha and Krishna ji because the Hindu himself…… know what is the matter ?.”

ऐसी घटनाओं में हम हिंदू और हमारे कथावाचक ही दोषी हैं, क्योंकि हम ही अपने आराध्यों के बारे में बहुत सी ना कहने योग्य बातें कहते सुनते रहते हैं।

लोग कर रहे विरोध

सनातन 🚩समाचार🌎 हिंदुओं के आराध्य भगवान श्रीकृष्ण और मां राधा रानी जी की अश्लील पेंटिंग बेचने का दुस्साहस किया है Amazon ने। जिस को लेकर सारे स्नातनियों में रोष है। श्री कृष्ण जन्माष्टमी के पवित्र अवसर पर अमेजन ने कुकृत्य किया है। इस बारे में ‘हिन्दू जनजागृति समिति’ ने कठोर कार्रवाई की माँग की है। इस संगठन ने बेंगलुरु के सुब्रमण्या नगर पुलिस थाने में ऑनलाइन रिटेल जायंट के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई है तथा प्रशासन को मेमोरेंडम भी सौंपा गया है जिसमें कठोरतम कार्रवाई की माँग की गई है।

जब हम खुद ही ऐसी बाते करेंगे तो

बता दे कि हिंदुओं के आराध्य भगवान श्री कृष्ण और राधा जी के बारे में ऐसी घटना पहली बार नहीं हुई है। इससे पहले भी अनेकों बार बहुत सारे लोग राधा कृष्ण जी के बारे में अनर्गल बातें कहते रहे हैं। इस सब के बारे में एक तथ्य यह भी है कि हिंदुओं के ही बहुत सारे कथावाचक इसी प्रकार की अशोभनीय बातें भगवान श्री कृष्ण और राधा जी के बारे में अपनी कथाओं में बोलते रहते हैं। यह लोग राधा कृष्ण जी को लेकर निरंतर प्रेम लीला, रासलीला, नृत्य और अठखेलियां की ही बातें सुनाया करते हैं। जिसके चलते समाज में ऐसे ऐसे कैलेंडर और चित्र बनते रहते हैं जिनसे सीधे-सीधे मां राधा और श्री कृष्ण जी का चरित्र हनन होता है।

हम ये चित्र स्पष्ट नहीं दिखा सकते

बाहर हाल बाहर हाल अमेजॉन के इस कुकृत्य की जानकारी मिलने पर लोगों द्वारा इसका ट्विटर पर भारी विरोध किया गया तथा हिंदू संगठन के द्वारा अमेजॉन के खिलाफ पुलिस में शिकायत देने के बाद अमेजॉन ने उस अश्लील पेंटिंग को हटा दिया गया है। परंतु इसके बाद भी लोगों का गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा है क्योंकि Amazon ने विरोध के बाद भले ही चुपचाप इसे हटा दिया हो, लेकिन कंपनी की तरफ से अब तक इस पर किसी प्रकार की माफ़ी नहीं माँगी गई है।

ये घटिया गाने धर्म के नाम पे

बतादें की इस पेंटिंग को ‘Exotic India’ की वेबसाइट पर भी बेचा जा रहा था। दुखद बात ये है कि घोर अपत्तिजनक पेंटिंग को ‘जन्माष्टमी सेल’ के नाम पे बेचा जा रहा था। Amazon पर इसे बेंगलुरु का ‘Inkologie’ नाम का एक व्यक्ति बेच रहा था। हिन्दुओं द्वारा चलाए गए बॉयकाट में हिंदुओं ने कहा कि ऐसी कमोनियों और लोगों का पूर्ण रूप से बहिष्कार ही इसका उपाय है, क्योंकि जब तक इन्हें आर्थिक मार नहीं पड़ेगी तब तक ये नहीं सुधरेंगे।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *