Animals also on the target of savages, police caught Imtiaz Hussain while raping a calf.”

क्या होगा इन लोगों का ? आखिर क्या इलाज है इन हैवान वैहाशियों का ?

सनातन 🚩समाचार🌎 ऐसे वहशी दरिंदों के बारे में जितना भी बुरा लिखा और बोला जाए वह बहुत कम होगा। परंतु हमारा काम किसी के बारे में बुरा लिखना या बुरा बोलना नहीं है बल्कि हमारा काम है वह सब बातें अपने समाज को बताते रहना जो आज हर तरफ घट रही हैं।

यह बात अलग है की अब अधिकतर घटनाएं इसी प्रकार की घटने लगी हैं। जिनमें असल पहचान छिपाकर धोखाधड़ी करते हुए लव जिहाद किया जाता है और उसके बाद जबरन बलात्कार किए जाते हैं, और फिर निर्दोष लड़कियों की हत्याएं भी की जा रही हैं। परंतु इन वहशियों की सोच इससे भी कहीं अधिक गिरी हुई है जिसके प्रमाण भी अक्सर मिलते रहते हैं।

कुछ ही समय पहले सन 2022 में उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में एक गाय के साथ आपत्तिजनक कार्य किया गया था और छत्तीसगढ़ में भी सन सन 2022 में ही एक गाय के चारों पैर बांधकर एक शहर ए आलम नाम के वहशी ने दुष्कर्म किया था। ऐसी बहुत सारी घटनाएं हैं। ऐसी घटनाओं में एक और घटना जुड़ गई है कर्नाटक के रायचूर जिले की। यहां पर एक बछड़े के साथ ही बलात्कार कर दिया गया है। बता दें की बलात्कारी ने पुलिस के सामने यह मान भी लिया है उसने यह गंदा काम किया है।

मिली जानकारी के अनुसार अमरेश प्रसन्ना नाम के एक व्यक्ति ने मस्जिद के साथ वाले खेत में अपनी गाय और बछड़े को घास खाने के लिए छोड़ दिया था। उसी समय मौके का फायदा उठाते हुए एक हैवान ने बछड़े को पकड़कर एक पेड़ से बांध दिया और फिर उसके साथ दुष्कर्म करने लगा। जब आसपास के लोगों ने उसे यह कुकृत्य करते हुए देखा तो उन्होंने तुरंत पुलिस को इसकी सूचना देकर उन्हें मौके पर बुला लिया। वहां पुलिस पहुंची पुलिस ने भी देखा कि वह व्यक्ति बछड़े के साथ साथ बलात्कार कर रहा था।

इस पर पुलिस ने उस हैवान को रंगे हाथों पकड़ लिया। पता चला है कि इस पकड़े गए वहशी का नाम है इम्तियाज हुसैन। हो हल्ला सुनकर बछड़े का मालिक भी वहां पर पहुंच गया तथा सारी बात समझने के बाद उसने पुलिस में लिखित शिकायत भी दर्ज करवा दी है। पुलिस के अनुसार पकड़े गए आरोपी ने प्राथमिक पूछताछ में ही अपना अपराध स्वीकार कर लिया है और अब आगे कानून के अनुसार सुसंगत कार्रवाई की जा रही है।

बहरहाल इस तरह की घटनाएं आने वाले भविष्य के बारे में बहुत खतरनाक संकेत दे रही हैं। इसलिए इसके बारे में समाज को और सरकार को जल्द से जल्द इस ओर ध्यान देना चाहिए।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *