“Act of hate gang” Brahmins leave India, blood will flow, go to shakha and threaten.”

अब तो लोग कहने लगे हैं की इस नाम में ही खराबी है।

सनातन 🚩समाचार🌎 बताने की आवश्यकता नहीं है कि जेएनयू का विवादों से बहुत पुराना नाता रहा है। इसी जेएनयू में कभी आजादी के नारे लगाए जाते रहे और डफलियां भी बजाए जाती बजाई जाती रही हैं। इसके साथ ही फिल्म अभिनेत्री दीपिका पादुकोण भी यहां एक बार आजादी के नारों में शामिल हो चुकी है।

पता नहीं ऐसे क्या कारण हैं जिनके चलते हैं जवाहरलाल यूनिवर्सिटी में हमेशा कोई ना कोई विवाद छिड़ा ही रहता है। यह भी आरोप लगते रहते हैं कि यहां पर रहने और खाने पर छात्रों को बहुत कम पैसे देने पड़ते हैं जिस कारण यहां पढ़ने वाले छात्र बूढ़े हो जाते हैं परंतु पढ़ाई नहीं छोड़ते हैं। बाहर हाल अब फिर से एक एक नया घटनाक्रम सामने आया है जवाहरलाल यूनिवर्सिटी में।

जिसमें इस विश्वविद्यालय परिसर में बनी हुई कई इमारतों की दीवारों पर बेहद आपत्तिजनक नारे लिखे गए हैं। इतना ही नहीं कुछ प्रोफेसरों के चेंबरों के बाहर भी उल्टा सीधा लिखा गया है। इनमे से 3 प्रोफेसरों के चेंबर के गेट पर लिखा गया है कि शाखा में जाओ। इस बारे में आर एस एस से जुड़े छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का कहना है यह सब वामपंथियों की द्वारा किया गया है।

बता दें कि विश्वविद्यालय परिसर की स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज भवन की दीवारों पर वैश्य समुदायों और ब्राह्मणों के खिलाफ आपत्तिजनक बातें लिखी गई हैं। जिनमें पूरी तरह नफरत का प्रदर्शन करते हुए लिखा गया है कि ब्राह्मण बनिया हम आ रहे हैं बदला लेने।

और एक जगह लिखा है ब्राह्मण परिसर छोड़ो, ब्राह्मण भारत छोड़ो, और उसके साथ ही एक अन्य स्थान पर यह भी लिखा गया है कि अब खून बहेगा। इस बारे में जेएनयू एबीवीपी के अध्यक्ष रोहित कुमार का का कहना है की एबीवीपी कम्युनिस्ट गुंडों द्वारा इस शिक्षण संस्थान में कई स्थानों पर जातिसूचक नारे लिखा जाना बेहद निंदनीय है। इन लोगों ने स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज बिल्डिंग में जेएनयू की दीवारों पर अपशब्द लिखे हैं। उन्होंने उन्हें डराने के लिए अच्छी सोच वाले प्रोफेसरों के कक्षों को भी अपना निशाना बनाया है।

एबीवीपी के अध्यक्ष ने आगे कहा है कि एक महिला प्रोफेसर के गेट पर तो “गो बैक टू शाखा” लिखा हुआ है, उन्होंने याद दिलाया कि 2019 में 3 दिनों तक इसी महिला प्रोफेसर को बंधक बनाकर रखा गया था।

वीडियो हटके

उन्होंने कहा हमारा मानना है की अकादमिक स्थानों का प्रयोग स्वच्छ बहस और चर्चा के लिए होना चाहिए ना की समाज और छात्रों में नफरत घोलने के लिए। यहां नफरत और गालियों के लिए कोई स्थान नहीं होना चाहिए।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

2 thoughts on ““नफरती गैंग की करतूत” ब्राह्मणों भारत छोड़ो, खून बहेगा, शाखा में जाओ और धमकियां”
  1. बहुत ही सराहनीय प्रयास आदरणीय अध्यक्ष जी के द्वारा समूचे भारतवर्ष में सनातन धर्म जागरण का जो प्रयास किया गया है यह समय की मांग है हम सभी सनातनी राष्ट्रवाद के साथ साथ मिलकर सभी सम्मानित सनातनी हिन्दू बंधुओ को एक सूत्र में पिरो कर इन तथाकथित सेकुलर गिरोह को नेस्तना बूत करने का कार्य करे जिससे हम जातियो में न बटे यू कि आज बामपंथियो व सेकुलर ताकते हम सनातनियो को एक होता देख कर हमे जातियों में बांट कर देश में नपरत का जहर घोलने का काम शुरू कर दिया है जिससे हमे सावधान रहना होगा हिन्दू समाज में जातियों का अपना महत्व है हम स्वयं इस के साथ है एक वर्ग को संगठित करके ही हम विशाल परिवार के सपने को साकार कर सकते हैं। जय सियाराम वन्देमातरम् राष्ट्रवादी कृष्ण देव मिश्र सनातनी जिला संयोजक सुल्तानपुर जिला उपाध्यक्ष भारतीय ब्राह्मण हितकारी सेवा समिति भारत सुल्तानपुर हिन्दू सुरक्षा सेवा ट्रस्ट सिद्धपीठ हनुमान गढ़ी अयोध्या धाम ।9956887111

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *