Processions with religious slogans were attacked with stones, arson, RSS workers saved from death.”

इधर राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के आनंद में डूबे सारे सनातनी, उधर झारखंड में खुशियां मना रहे हिंदुओ पे हमला।

सनातन🚩समाचार🌎 अयोध्या जी में भगवान श्री राम जी के मंदिर बनने की खुशी में डूबे हुए सनातनी समाज के पवित्र शोर में वह खबरें दब गई जिनमे श्री राम जी की प्राण प्रतिष्ठा का उल्लास मान रहे हिंदुओं पर हमले कर दिए गए। जैसे की आशंकाएं जताई जा रही थी की श्री राम लला की प्राण प्रतिष्ठा के विरोध में देश में भारी दंगे हो सकते हैं। किंतु भगवान का शुक्र है कि ऐसा कुछ नहीं हुआ। फिर भी कहीं-कहीं उन्मादियों ने अपनी पुरानी चाल चलते हुए शोभायात्राओं पर हमले कर दिए हैं, जिनकी जानकारियां अब प्राप्त हो रही हैं।

झारखंड से प्राप्त हुई जानकारी के अनुसार इस राज्य में कई स्थानों पर शोभायात्राओं पर हमले किए गए हैं। झारखंड के कई जिलों से हमले के समाचार मिल रहे हैं जिनमे मजहबी नारों के साथ भीड़ ने शोभायात्राओं पर पत्थर बाजी की, कहीं पर आगजनी भी कर दी और कहीं पर जान से मार देने के प्रयास भी किए गए।

प्राण प्रतिष्ठा के बाद भावुक पल

अब खबर विस्तार से ……..

झारखंड से प्राप्त हुए सूत्रों के अनुसार तीन स्थानों पर हमले किए गए हैं जिनमें कई लोग घायल हो गए। झारखंड के लोहरदगा में उस समय तनाव फैल गया जब कैरो थाना क्षेत्र के गांव में 22 जनवरी 2022 24 की रात्रि को अयोध्या जी में हुए प्राण प्रतिष्ठा अनुष्ठान के चलते हिंदू लोग खुशियां मना रहे थे। तभी गुस्साए हुए लोग वहां पहुंच गए और मजहबी नारे लगाने लगे जिससे दोनों पक्ष आमने-सामने हो गए। पता चला है की लाठी डंडों से लैस भारी भीड़ ने मंदिर को घेर लिया। एसपी हारिस बिन जमा के अनुसार तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है। दोनों पक्षों के लोगों के साथ बैठकर स्थिति को सामान्य करने का प्रयास किया गया है।

उधर गिरिडीह में भी हमले की जानकारी मिली है। यहां पर किए गए हमले में आजाद नगर के पास आरएसएस के एक कार्यकर्ता रोहित महतो पर जान लेवा हमला कर दिया गया, जिस कारण वह गंभीर रूप से जख्मी हो गए। इसके साथ ही मुफस्सिल थाना क्षेत्र में जमकर पतराव किए जाने की भी जानकारी प्राप्त हुई है। पता चला है कि पूर्णानगर राम मंदिर के पास से लोग शोभायात्रा निकालकर चुंजका ‘बजरंग बली’ मंदिर जा रहे थे। ज्यों ही शोभायात्रा मंदिर के पास पहुंची तभी मजहबी नारों के साथ बहुत सारे लोगों ने एक साथ छतों से पत्थर बरसाने चालू कर दिए। अचानक हुए इस हमले से बहुत सारे श्रद्धालु घायल हो गए। इस बीच शांति स्थापित करने के लिए मौके पर पहुंची पुलिस के भी कई जवान भी पत्थरों की चपेट में आकर घायल हो गए।

धनबाद में दो स्थानों पर हमला किया गया

धनबाद से प्राप्त हुई जानकारी के अनुसार कदैयाँ में 22 जनवरी 2024 की शाम को हिंदुओं के द्वारा शोभायात्रा निकालने के दौरान मजहबी नारे लगाते हुए बहुत सारे लोग अपने घरों से बाहर निकल आए और शोभायात्रा वालों से बहसबाजी करने लगे। इसके बाद बहस बाजी मारपीट में बदल गई।

बता दें कि यहां पर धार्मिक झंडा लगाने का विरोध करने के बाद दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए थे डीएसपी अमर कुमार पांडे और टुंडी थाना की पुलिस ने भारी प्रयास करके स्थिति को काबू में कर लिया।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *