अगर आप हिन्दू हैं और अगर आप वास्तव में स्वतंत्र हैं तो आपको बहुत बहुत बधाईयां।

सनातन🚩समाचार🌎 से जुड़े हुए आप सभी बंधुओं को हृदय की गहराइयों से आज 26 जनवरी – गणतंत्र दिवस की बहुत-बहुत बधाइयां। आज का दिन बहुत शुभ दिन है और प्रत्येक राष्ट्रवादी के लिए एक उत्सव का दिन है। आज के दिन ही दिल्ली में राजपथ पर हमारी सशस्त्र सेनाएं अपना शक्ति प्रदर्शन करती हैं और साथ ही सभी प्रदेशों की बहुत सुंदर झांकियां भी दर्शन देती हैं। तिरंगा लहराया जाता है और सभी श्रेष्ठ जनों सहित प्रधानमंत्री जी तिरंगे को प्रणाम करते हैं। आज के दिन प्रत्येक राष्ट्रवादी के मन में अपने देश के प्रति बहुत सारे भाव और सवाल भी पैदा होते हैं।

उन लोगों के हृदय में तो कोई भावा ही नहीं सकता जो हमेशा इस देश में रहते हुए भी इस देश को हानि पहुंचाने की सोचते रहते हैं, परंतु जो राष्ट्र भक्त हैं अपने देश से प्रेम करते हैं उनके मन में तो बहुत सारे भाव आते ही हैं। विशेषकर हिंदुओं के तो आते ही हैं क्योंकि यह आजादी का पर्व है हालांकि यह है तो आजादी का प्रतीक हमारा गणतंत्र दिवस परंतु बहुत बड़ा सवाल यह है कि क्या वास्तव में हिंदुस्तान के हिंदू स्वतंत्र हैं ? क्योंकि चारों ओर से हिंदुओं के ऊपर आघात होते ही रहते हैं। मंदिरों का टूटना हिंदुओं की हत्याएं, लव जिहाद और लालच देकर धर्म परिवर्तन करवाना, यह सब आम बातें हैं।

बहुत खेद की बात यह है कि जब भी कोई हिन्दू या कोई हिंदुओं का संत इन सब हो रहे अत्याचारों का विरोध करता है तो तुरंत उसे पकड़कर जेलों में ठूंस दिया जाता है। परंतु जब अन्य समाज के लोग जी इनसे भी बहुत ज्यादा भयंकर बातें करते हैं, उनको छुआ तक नहीं जाता। यह शायद इसलिए है कि हिंदू केवल बातें करते हैं करते कुछ नहीं, और वह करते सब कुछ है और बातें कभी नहीं करते। यह एक विडंबना ही है मुसलमानों के सभी नेता चाहे वह किसी भी पार्टी में हो वह हमेशा इस्लाम की ही बात करते हैं और अपने मुसलमान भाइयों के उत्थान में लगातार लगे रहते हैं। परंतु इधर हिंदुओं की नेताओं की मानो आत्मा ही मर गई है। कुछ इक्का-दुक्का और योगी आदित्यनाथ जी को छोड़कर सभी का यही हाल है।

फिर वह चाहे किसी भी पार्टी में क्यों ना हों। हिंदुओं के नेता केवल अपनी कुर्सी, अपनी वाहवाही और केवल धन कमाने में ही लगे रहते हैं और दूसरी तरफ मुसलमानों के नेता खुलेआम छाती ठोक कर ऐलान करते हैं कि हां मैं मुसलमान हूं मैं इस्लाम का झंडा बरदार हूं। इनमें ओवैसी तौरीक रजा पंजाब का मोहम्मद मुस्तफा जैसे अनगिनत नाम है जो केवल और केवल इस्लाम के लिए और इस्लाम के नाम पर ही राजनीति करते हैं। ये इस्लाम को मानने वालों के साथ हमेशा खड़े रहते हैं, सही भी है आखिर वह जो हैं उसी के अनुसार उन्हें चलना ही चाहिए।

सनातन समाचार मुख्य संपादक

परंतु ना जाने क्यों हिंदुओं के नेता हिंदुओं को झांसे में लेकर उनके वोट लेकर सत्ता में तो आ जाते हैं, परंतु कभी भी हिंदुओं की पीड़ा में हिंदुओं का साथ नहीं देते हैं। बहरहाल आज 26 जनवरी/गणतंत्र दिवस है। सनातन🚩समाचार🌎 अपने से जुड़े हुए हैं सभी आदरणीय बंधुओं को, बहनों को बहुत बहुत बधाई देता है, और भगवान जी से प्रार्थना करते हैं कि आने वाला समय सभी सनातनियों के लिए बहुत शुभ हो। सभी हिंदुओं का कल्याण हो।।

इस शुभकामना संदेश के साथ ही वीडियो भी देखें जिसमें “सनातन समाचार” के प्रधान संपादक अशवनी हिंदू अपने हृदय के विचार व्यक्त कर रहे हैं।

26 January: Ashwani Hindu of Sanatan News said this for the independent Sanatanis of the free country

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *