बाबुल खान (x डिप्टी मेयर) के घर की स्त्रियों, बेटे इमरान ने घर पे किया हमला सदमे में गोपाल साह


The women of Babul Khan’s (x Deputy Mayor) house, son Imran attacked the house Gopal Sah in shock.

छेड़खानी का विरोध किया तो हुआ बवाल

सनातन 🚩समाचार🌎 बिहार के भागलपुर जिले में उस समय हड़कंप मच गया जब एक भड़की हुई भीड़ ने एक घर के ऊपर हमला कर दिया तथा उस घर के सदस्यों को बाहर खींच खींच कर उनकी पिटाई की। इस हुए हमले में कई लोगों को चोटें आई हैं। मिली जानकारी के अनुसार भागलपुर के तातारपुर थाना क्षेत्र में यह घटना घटी है। दरअसल यह मामला एक लड़की से छेड़छाड़ किए जाने से शुरू हुआ था। यहां के उर्दू बाजार इलाके में शहर के पूर्व डिप्टी मेयर बाबुल खान का परिवार रहता है।

हमला बोल दिया

आरोप है कि उनके बेटे इमरान ने नशे की हालत में एक युवती से छेड़खानी की थी जिसका युवती के घरवालों को पता चलने पर उन्होंने इमरान का विरोध किया गया जिस पर काफी कहासुनी हुई तथा मारपीट भी हुई। इसके बाद इमरान जब घर पहुंचा तो वह अपने साथ कई लोगों को लेकर वापस आया तथा उन लोगों ने मोहल्ले के गोपाल साह के परिवार पर हमला बोल दिया। गोपाल साह के अनुसार घर के सभी सदस्यों को घर से खिंच खिंच कर मारा गया है। हम पर लात घूंसों के इलावा लोहे की रॉड से भी हमला किया गया है।

अतिरिक्त पुलिस फोर्स

गोपाल साह के अनुसार हमले करने वाली भीड़ में महिलाएं, बुजुर्ग और युवा लोग भी शामिल थे गोपाल के घर के ऊपर हुए हमले की जब शहर में चर्चा फैली तो हिंदू संगठन के लोग भी मौका पर आ गए और घर पर हुए हमले के विरोध में प्रदर्शन करने लगे। हिंदू संगठन के लोग रास्ते में ही बैठ गए तथा मार्ग को पूरी तरह जाम कर दिया। इस बीच स्थानीय पुलिस भी वहां पहुंच गई तथा मामला गंभीर होते देख मौके पर अतिरिक्त पुलिस फोर्स भी बुला ली गई। पीड़ित परिवार के मुखिया गोपाल साह के अनुसार उनको बिना किसी कारण के पीटा गया है जबकि बाबुल खान के लोगों की भीड़ किसी और व्यक्ति को पीट रही थी हम तो केवल उसे बचाने गए थे परंतु हम पर ही हमला करके हमें बुरी तरह पीटा गया है।

https://vimeo.com/687645124
किसीने घर की छत से बनाई वीडियो

हिंदू संगठन

हमला करने वालों में एक्स डिप्टी मेयर बाबुल खान का बेटा इमरान और उसके परिवार की महिलाएं भी शामिल हैं। पीड़ित परिवार द्वारा शिकायत दिए जाने पर पुलिस ने 4 लोगों को मौका पर गिरफ्तार कर लिया तथा उन्हें थाने में ले गई। इस बीच हिंदू संगठन के लोगों को घटनास्थल पर ही डटे रहे तथा निरंतर दोषीयों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करते रहे। इस बवाल के बाद शहर के कुछ गणमान्य लोग भी बीच-बचाव करने के लिए पहुंच गए तथा दोनों पक्षों के बीच समझौता करवा दिया गया। इस समझौते मैं एक मुख्य बात लिखी गई है कि अब अगर आगे से आरोपी कुछ भी गलत करेंगे तो उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।

इस बारे में गोपाल साह का कहना है कि मैं और मेरा परिवार अभी तक सदमे में है कि आखिर कोई किसी के घर के अंदर घुस कर कैसे सभी को बाहर खींच खींच कर मारपीट कर सकता है


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *