Now the new Jahangirpuri has started being built here too, the same people, the same situation, will there be attacks on Hindus here too?.”

क्या यहां भी हिंदुओं पर आयेगी आफत ? क्या यहां भी होंगे पथराव ?

सनातन🚩समाचार🌎एक तरफ जहां सारे देश में अवैध कब्जे वालों के द्वारा अवैध कार्य किए जा रहे हैं, वहीं दूसरी ओर आम जनमानस भी सतर्क होने लगा है। हाल ही में दिल्ली की जहांगीरपुरी में घटी घटना ने तो सारे हिंदुओं को झकझोर कर रख दिया है। घटना में हिंदुओं की शोभायात्रा पर जहांगीर पुरी के अवैध कब्जा धारियों ने भयंकर हमला किया था। कांच की बोतलें बरसाई गईं, तलवारों से वार किए गए और छतों से भी पत्थर बरसाए गए। लाखों लोग जहांगीरपुरी से हर रोज निकलते थे परंतु इस हमले से लोगों की आंखें खुली हैं। इस घटना के बाद पता चला की जहांगीर पुरी की बेहद चौड़ी सड़क पर का 80% हिस्सा घेर कर वहां पर कबाड़ का काम किया जा रहा था यानी सरकार की अरबों रुपए की संपत्ति को कबाड़ कर दिया गया है।

5000 गज जमीन

यहां बेहद दुर्भाग्य जनक बात यह रही कि जब सुर्खियों में आए इस अवैध कब्जे को सोया हुआ प्रशासन हटाने लगा तो तुरंत कबाड़ वालों के द्वारा देश के सबसे महंगे वकील खड़े किए गए और अवैध कब्जा वालों को हटाने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट ने स्टे लगा दिया। इसके बाद जब लोग सतर्क हुए हैं और लोगों की सतर्कता के ही चलते एक और बड़ा मामला दिल्ली में ही सामने आया है। यहां के साउथ दिल्ली के अंतर्गत पड़ते गांव फत्तेपुर बेरी की मेन रोड पर पढ़ी हुई लगभग 5000 गज जमीन पर अवैध लोगों के द्वारा अवैध कब्जा कर के वहां पर लकड़ी के कबाड़ का काम बहुत जोरों शोरों से किया जा रहा है। मजे की बात यह है की बिजली विभाग ने इनके लिए वहां पर बाकायदा मीटर भी लगा दिया है।

यह आश्चर्य की बात है कि बिजली विभाग ने वहां मीटर भी लगाया हुआ है। इस बहुत बड़ी जगह पर कब्जा किए हुए लोगों में से एक मौके पर उपस्थित एक महिला समीना खातून से जब पूछा गया कि आपने यह सारा कब्जा किसके आदेश से किया है तो उसके पास कोई उत्तर नहीं था। जब उससे बार-बार पूछा गया कि आप इस बारे में कोई कागज दिखाओ तो वह महिला कोई भी कागज नहीं दिखा पाई, और जब उसे अपना आधार कार्ड दिखाने को कहा गया तो उसने कह दिया कि आधार कार्ड उसके घर पर है, परंतु उस जमीन पर बाकायदा एक घर नुमा झोपड़ा भी बना दिया गया है। इस हुए अवैध कब्जे का खुलासा करने वाले व्यक्ति ने जब वहां पर उपस्थित लोगों से और राह चलते लोगों से पूछा कि क्या यहां पर कभी पहले ऐसा कोई कब्जा था तो सभी ने एकमत से कहा कि ऐसा नहीं था परंतु अब यहां पर यह कब्जा किया गया है।

बलात्कार का आरोप लगा देती है

बता दें कि इस अवैध कब्जे वाले स्थान के ठीक बगल में ही बस स्टैंड बना हुआ है परंतु कब्जा धारी महिला समीना खातून वहां से लोगों को बस में ना चढ़ने देती है ना उतरने देती है वहां पर उपस्थित स्कूली बच्चों ने भी बताया कि यह महिला उन्हें इस बस स्टॉप से बस से बस में चढ़ने नहीं देती है भगा देती है। इस अवैध कब्जे का खुलासा करने वाले व्यक्ति ने बताया है कि जो भी व्यक्ति यहां पर कोई सवाल करने आता है उसी व्यक्ति के खिलाफ यह महिला अपने कपड़े फाड़ कर बलात्कार का आरोप लगा देती है। उसका यह भी कहना है कि अवश्य ही अब यह महिला उस पर भी बलात्कार का आरोप लगाएगी। अवैध कब्जे वाली यह जगह साउथ दिल्ली के गांव फत्तेपुर बेरी की मेन रोड पर स्थित है।

यहां पर अवैध लोगों ने अवैध कब्जा करके सारा नाला ही घेर रखा है यह जगह शनि धाम के बस स्टैंड के बिल्कुल नजदीक है पता चला है इस जगह की कीमत करोड़ों रुपयों में है। यह बड़ा सवाल यह उठता है कि आखिर प्रशासन इस अवैध कब्जे के बारे में क्यों आंखें बंद किए हुए है ? क्या अंदर खाते अधिकारियों ने इन अवैध कब्जा धारियों से मोटी रकम ले ली है ?

या वो प्रतीक्षा कर रहे हैं कि कभी इस जगह से भी हिंदुओं पर हमला किया जाएगा तब सरकार अपने आप इस अवैध कब्जे को हटा देगी।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *