Victim of LOVE JIHAD minor missing for 17 days, now Sanatan News will bring back this girl too.”

केवल खबरों से काम नहीं चलेगा धर्मरक्षा भी करनी पड़ेगी अब।

सनातन🚩समाचार🌎 प्रदेश चाहे कोई भी हो, कोई भी भाषा हो इससे कोई भी फर्क नहीं पड़ता है लव जिहाद करने वालों को। हिंदुओं के लिए यह अभिशाप हर जगह फैलता जा रहा है। पंजाब को कभी इस बीमारी से सुरक्षित समझा जाता था परंतु पिछले 5 सालों में यहां पर भी लव जिहाद एक भयंकर रूप ले चुका है। पंजाब के लुधियाना शहर में ही हिंदुओं के साथ ऐसी बहुत सारी दुर्घटनाएं हो चुकी हैं। लुधियाना शहर में लव जिहाद से पीड़ित 9 लड़कियों को सनातन समाचार अब तक लव जिहादियों से छीन कर वापिस ला चुका है, परंतु ना जाने और ऐसी कितनी लड़कियां होंगी जिनके परिजन हमसे संपर्क नहीं कर पाए हैं। और वह बच्चियां किन हालात में होंगी कुछ पता नहीं।

आयु केवल 13 वर्ष

बहुत दुखद बात यह है कि यहां पर शिकार होने वाली अधिकतर लड़कियों की आयु 13/14 वर्ष की ही है। यह आयु ऐसी होती है कोई इस आयु के बच्चे को एक टॉफी दिखाकर ही वर्गला सकता है। अब एक ऐसा और नया मामला पहुंचा है सनातन समाचार के पास। हमारे पास आए लड़की के परिजनों ने बताया है कि उनकी बेटी की आयु केवल 13 वर्ष है उनके अनुसार 1 मार्च शिवरात्रि के पवित्र दिन उस समय उनके होश उड़ गए जब उन्होंने पाया कि उनकी लड़की न जाने कहां गायब हो गई है। अपनी बच्ची को ना पाकर उन्होंने इधर-उधर काफी दौड़-धूप की परंतु असफल रहे। बता दें की यह पीड़ित परिवार बिहार के समस्तीपुर जिला का रहने वाला है जो यहां पर मेहनत मजदूरी करके अपना पेट पालता है।

ऊपर मुस्लिम लड़के

13 वर्ष की नाबालिग लड़की के माता पिता के अनुसार वह लुधियाना के प्रीतम नगर में एक मकान में किराए पर रहते हैं। उनके अनुसार नीचे मकान मालिक रहते हैं ऊपरी मंजिल पर पीड़ित परिवार रहता है तथा उसके ऊपर मुस्लिम लड़के रहते हैं। शक होने पर जब उन्होंने ऊपर की मंजिल पर जाकर उन लड़कों से पूछताछ की तो उनमें से एक लड़का गायब था जिसके बारे में उन्होंने पूछा तो उसके साथी कोई सही उत्तर नहीं दे पाए। कोई कह रहा था गांव चला गया है, कोई कहता है काम पर चला गया है तो कोई कह रहा था पता नहीं कहां है। इस पर पीड़ित परिवार ने जगतपुरी थाना में जाकर इसकी शिकायत कर दी।

पुलिस को भी नंबर पता चल गया

शिकायत मिलने पर पुलिस ने आरोपी सरफुद्दीन के भाई को पकड़ कर उसे पूछताछ की और उसे छोड़ दिया। लड़की के पिता के अनुसार इस बीच सरफुद्दीन के फोन उस लड़के के फोन पर आते रहे परंतु उसने कुछ नहीं बताया। पूछताछ में पुलिस को भी वह नंबर पता चल गया जिससे आरोपी सरफुद्दीन फोन कर रहा था। इसके बाद जब आरोपी को फोन किया गया तो उसका फोन बंद आ रहा है। हमारे पास पहुंचे लड़की के माता-पिता ने रो-रोकर यह सारी बातें बताई हैं। वह बार-बार एक ही बात कह रहे थे कि किसी तरह हमारी बेटी हमें वापस दिलवाओ।

हिंदू संगठन ने पुलिस चौकी के आगे धरना भी लगाया था

लड़की के परिजनों का आरोप है कि 1 तारीख को हम ने थाने में जाकर के शिकायत दे दी थी जिसकी f.i.r. भी पुलिस ने दर्ज कर ली है। जब पुलिस ने हमारी लड़की को ढूंढने का कोई प्रयास नहीं किया तब हमने पुलिस कमिश्नर को भी जाकर अर्जी दी है जिसमें हमने सभी आरोपियों के नाम और नंबर भी लिख कर दिए हैं, इसके बावजूद आज आज 17 दिन बीत जाने के बाद भी हमारी लड़की का कोई अता पता नहीं है। नाबालिक लड़की के परिजनों ने यह भी बताया की हमारी सहायता के लिए एक हिंदू संगठन ने पुलिस चौकी के आगे धरना भी लगाया था परंतु उसका भी कोई असर नहीं हुआ।

नाबालिगा के माता पिता

सनातन समाचार के वकीलों द्वारा

बहरहाल अब जबकि यह सारा मामला सनातन🚩समाचार🌎 के पास आ गया तो हमने तुरंत अपने वकीलों से संपर्क किया है तथा उन्हें नाबालिक 13 साल की लड़की के सभी डॉक्यूमेंट और लड़की के माता-पिता के डॉक्यूमेंट इत्यादि भी दे दिए हैं। इसके बाद त्वरित कार्य करते हुए सनातन समाचार के वकीलों द्वारा हाईकोर्ट में लड़की की बरामदगी की याचिका डाल दी है। हमें पूर्ण विश्वास है की अब यह 13 साल की नाबालिग बच्ची भी सरफुद्दीन नाम के लव जिहादी से छुड़ाकर वापिस उसके परिवार को हम सौंपने में अवश्य सफल होंगे। परंतु यहां बड़ा सवाल यह खड़ा होता है की आखिर कब तक हिंदू लड़कियों को लव जिहाद में फंसाया जाता रहेगा ? और वह भी केवल 13 वर्ष की लड़कियों को और सनातन समाचार उन्हें बचाता रहेगा ?

वह कथावाचक कर सकते हैं

क्या यही एक समाधान है इस आफत का ? हमारा मानना है कि ये इस समस्या का समाधान नहीं है। इस समस्या का समाधान अब हिंदुओं को खुद ही करना होगा। अपने घर की तथा अपने आसपास की सभी बच्चियों को अब इस विषय में भली प्रकार जागरूक करते रहना होगा। इसमें बहुत का बड़ा कार्य वह कथावाचक भी कर सकते हैं जो हिंदुओं को धर्म के नाम पर केवल ठुमके लगवाते रहते हैं, आशिकाना शायरी सुनाते रहते हैं, श्रृंगार रस की ही बातें करते रहते हैं। अब उन्हें अपने वचनों के द्वारा हिंदू समाज को इस कहर के बारे में भी निरंतर सावधान करते रहना चाहिए।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *