The idol of Hanuman ji was broken, the holy flag was torn, the temple was vandalized, Tauseef Ahmed was caught.”

चिंता और चिंतन का विषय है की निरंतर मूर्तियां तोड़ना, मांस फेंकना जैसे काम करने वालों को ये प्रेरणा कहां से मिलती है ❓

ये तिलक लगा कर मंदिर में घुसा था

सनातन 🚩समाचार🌎 एक के बाद एक धर्म का अपमान करने वाली श्रृंखला में एक और कड़ी जुड़ गई है उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में। यहां के एक मंदिर में उस समय हड़कंप मच गया जब एक राक्षस क्रोध से जय श्री राम चिल्लाता हुआ मूर्तियों को तोड़ने लगा। जिस समय उस राक्षस ने यह कुकृत्य किया उस समय मंदिर में मंगल महोत्सव के उपलक्ष में एक कार्यक्रम चल रहा था, तथा कई श्रद्धालु भी वहां उपस्थित थे।

तौसीफ अहमद ने माथे पर तिलक लगाया हुआ था

इससे पहले कि यह राक्षस और भी मूर्तियों को खंडित करता लोगों ने उसे काबू में कर लिया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार यह व्यक्ति क्रोध में दांत पीसते हुए जय श्रीराम जय श्रीराम चिल्ला रहा था। बाद में पूछताछ करने पर पता चला कि पकड़े गए व्यक्ति का नाम तौसीफ अहमद है। बतादें की घटना के समय तौसीफ ने माथे पर तिलक लगाया हुआ था। प्राप्त हुई जानकारी के अनुसार यह घटना लखनऊ के मामला चौक थाना क्षेत्र में पढ़ते “लेटे हुए हनुमान मंदिर” में घटी है। मौके पर मौजूद लोगों ने बताया है कि क्रोध में भरा हुआ तौसीफ अहमद अपने हाथों से ही मूर्तियों को तोड़ रहा था।

मंदिर लखनऊ की टीले वाली मस्जिद के पास बना हुआ है

इसने मंदिर में स्थापित श्री हनुमान जी की मूर्ति को तोड़ डाला और साथ ही मंदिर में स्थापित शनि देव जी की मूर्ति को भी जब यह तोड़ने लगा तो उपस्थित लोगों ने इसे काबू में कर लिया, जिस कारण शनि देव जी की मूर्ति को आंशिक क्षति ही पहुंची। तौसीफ अहमद नाम के इस राक्षस ने श्री हनुमान जी की मूर्ति का हाथ तोड़ डाला और साथ ही ॐ लिखी हुई पवित्र पताका को भी तोड़ कर इसने नीचे फेंक दिया। बता दें कि यह मंदिर लखनऊ की टीले वाली मस्जिद के पास ही बना हुआ है। मंदिर के पुजारी जी ने घटना के बारे में बताया कि तौसीफ अहमद ने यह कुकृत्य तब किया जब मंदिर में मंगल महोत्सव के दौरान एक कार्यक्रम चल रहा था।

शनि जी की मूर्ति आंशिक क्षतिग्रस्त

जब तौसीफ ने मूर्तियां तोड़नी शुरू की तो मंदिर में मौजूद लोगों ने लपक कर उसे पकड़ लिया और पुलिस को इसकी सूचना दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने तौसीफ को गिरफ्तार कर लिया। इस घटना की जानकारी मिलने पर बहुत सारे हिंदू और हिंदू संगठनों के लोग मंदिर में जमा हो गए। इस बीच स्थानीय विधायक नीरज वोरा भी मंदिर में पहुंच गए, और जैसा कि हर जगह नेता लोग कहते हैं वहीं इस जगह भी नेता जी के द्वारा कहा गया है कि यह एक बड़ी साजिश का हिस्सा है। इस घटना के बाद पुलिस ने मंदिर के आसपास के इलाकों में गश्त बढ़ा दी हैं।

पुलिस ने बताया

पुलिस के अनुसार पकड़े गए आरोपी तौसीफ अहमद से पूछताछ की जा रही है जांच पूरी होने के बाद तौसीफ अहमद पर कानून के अनुसार बनती कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इस मामले में एक बहुत बड़ी बात यह भी सामने आई है की …… तौसीफ अहमद ने मंदिर की मूर्तियों को तोड़ा, पवित्र ध्वजा को तोड़ा, धर्म का अपमान किया फिर भी मंदिर के ट्रस्टी डॉ विवेक तंगी ने इस बारे में कहा है कि यह सिर्फ एक घटना है दुर्घटना है। माना जाना चाहिए की ऐसे लोग ही वास्तव में धर्म के हो रहे अपमान के लिए जिम्मेदार हैं।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *