If you believe in Shri Krishna ji as God, do you also commit these mistakes unknowingly ?.”

सावधान रहें और भूल कर भी अपने आराध्य देवों के बारे में हल्की भाषा का प्रयोग ना करें 🙏

सनातन 🚩समाचार🌎 कुछ ढोंगी पाखंडियों ने अपनी दुकान चलाने के लिए सनातन धर्म को ही चुनते हैं, और अमर्यादित भजन, कीर्तन करके करवा के महायोद्धा, महायोगी श्री कृष्ण भगवान जी की छवि को धूमिल करने का प्रयास करते रहते है….

जैसे कि ………..

“मनिहारी” का वेश बनाया श्याम चूडी बेचने आया…
काली कमली वाला मेरा यार है…

अब बताइए ,,,,,,,,,,,,
कि श्याम चूडी बेचने कब आया था आपके यहाँ ? किस ग्रंथ में ये प्रसंग मिलता है कि श्याम चूडी बेचने आया था ??
बताइए काली कमली वाला आपका यार कैसे हो गया ? योगेश्वर श्री कृष्ण जी, जिन्होंने धर्म की रक्षा के लिए अवतार लिया और धर्म की स्थापना के लिए महाभारत जैसे भीषण महायुद्ध में भी धर्मध्वजा फहराई।
जन कल्याण के लिए, धर्म और अधर्म के मध्य अन्तर सपष्ट करने के लिए “श्रीमद्भग्वद गीता जी का संदेश” दिया। और महाभारत के युद्ध के बाद गांधारी ने श्री कृष्ण जी को वंश विनाश हो जाने का श्राप दिया। भगवान श्री कृष्ण जी की द्वारिका नगरी आज भी जलमग्न है और आप कहते हैं कि श्याम चूडी बेचने आया। फिर खुद को कृष्ण भक्त भी कहते हैं।

जैसे वो कोई राह चलता व्यक्ति है

जो लोग महाबली श्री कृष्ण भगवान जी की छवि धूमिल करने का प्रयास कर रहे हैं वे कृष्ण भक्त कैसे हो सकते हैं ? वहीँ कुछ कथावाचक श्री कृष्ण भगवान जी की रासलीलाओं के बारे में ही बताते रहते हैं। जैसे कि श्री कृष्ण जी भगवान नहीं कोई राह चलता व्यक्ति था, जो हर स्त्री को परेशान करता रहता था और सबके साथ रास लीलाएं रचाता था।

ये एक षडयंत्र है ………

अगर श्री कृष्ण जी की छवि धूमिल हुई तो श्रीमद्भग्वद गीता का अस्तित्व ही ख़त्म हो जाएगा और श्रीमद्भग्वदगीता का अस्तित्व खत्म हुआ तो सनातन धर्म का आलोप हो जाएगा, और ऐसे में नकारात्मक शक्तियां और भी प्रबल होंगी। अधर्म का बोलबाला होगा।

केवल इतना ही नहीं अब मार्किट में और भी ज्यादा न्यु ब्रांड कृष्ण भक्त आए हैं। जो अब शस्त्रधारी श्री कृष्ण भगवान जी की बजाए लड्डू गोपाल के रूप में पूजा करने लग गए हैं।

अनजाने में कुछ धूर्त कथावाचकों के बहकावे में आकर अठारह, बीस, बाईस साल की लड़कियां जगत के पालनहार भगवान श्री कृष्ण जी के लड्डू गोपाल स्वरूप को उठाए घूमती हैं। बतादें की किसी भी धर्मग्रंथ और शास्त्र में लड्डू गोपाल का कोई वर्णन नहीं है। तो ऐसे में आप योगेशेश्वर को गोद में उठा उनकी मां क्यों बन रहे हैं ?

क्या आप श्री कृष्ण जी की मां हैं ?

और अगर आप योगेश्वर श्री कृष्ण की माँ बन ही रही हैं तो श्री कृष्ण से क्यों कुछ मांगती हैं आप ? श्री कृष्ण तो आपकी गोद में बैठे हैं, अब आप ही कीजिए संसार का कल्याण, हर छोटी बड़ी घटना की जिम्मेवारी भी आपकी ही होनी चाहिए क्योंकि आप तो कृष्ण भगवान जी से भी बड़ी हैं। भगवान श्री कृष्ण जी को गोद में लिए लिए घूमने से आप तो श्री कृष्ण की माँ है अब श्री कृष्ण को भी कुछ चाहिए तो आपसे ही मांगेंगे!

जय श्री कृष्ण

कृपा करके मन वचन और कर्म से भगवान श्री कृष्ण जी का पूरी तरह से सम्मान करें। उन्हें धूर्त कथावाचकों की बातों में आकर चरित्रहीन, रणछोड़ (भगौड़ा), छल करने वाला, पारस्त्रियों संग रास करने वाला, चोर, बांसुरी वादक इत्यादि घोषित ना किया करें। बल्कि उसने धर्मरक्षा के लिए शस्त्र उठाने की प्रेरणा लिया करें। क्योंकि श्री कृष्ण भगवान जी ने अवतार लेने से आखिरी समय तक केवल और केवल धर्मद्रोहियों के वध ही किए हैं।

🚩जय श्री कृष्ण 🙏जय श्री कृष्ण ।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *