Dalit girl trapped in Shahnawaz’s clutches, hostage – beaten – Islam – set on fire if she did not agree.”

हर रोज शैतानों का शिकार हो रही लड़कियों की बरबादी का जिम्मेवार कौन आखिर कौन ?

सनातन 🚩समाचार🌎 शायद आपको यह पढ़कर बुरा लगे परंतु हमारा काम अपने स्नातनियों से सीधी और सच्ची बात करने का है। हमारा यह मानना है कि हम हिंदुओं की कायरता और संस्कार हीनता का फल आज हमारी बच्चियां भोग रही हैं।

हर रोज इस तरह की बहुत सारी खबरें सामने आती रहती हैं जिनमें हिंदुओं की लड़कियों का तरह-तरह से शैतानों के द्वारा शोषण, भोग और हत्याएं की जा रही हैं। यह भी सच है की इन खबरों को बड़े-बड़े कहे जाने वाले मीडिया संस्थान दिखाते ही नहीं हैं।

अब फिर से एक शैतान की दरिंदगी का शिकार हो गई है एक 18 साल की दलित हिंदू लड़की। इस लड़की को शाहनवाज नाम के एक शैतान ने न केवल बंधक बनाया बल्कि जब उसने इस्लाम कबूल करने से मना किया तो उसकी खौफनाक तरीके से पिटाई की गई। फिर उसके बाद शैतान ने बेबस दलित लड़की को तेल डालकर जला दिया।

ये भी आजमाएं

यह भयानक घटना घटी है उत्तर प्रदेश के कानपुर में रहने वाली एक लड़की के साथ। यहां के गुजैनी इलाके की एक 18 वर्षीय हिंदू लड़की को शाहनवाज बहला-फुसलाकर अपने साथ लखनऊ ले गया। जहां पर उसने लड़की को बंधक बना लिया फिर उसके बाद उसकी क्रूरता से पिटाई करके जला दिया।

प्राप्त हुई जानकारी के अनुसार गुजैनी इलाके की 18 वर्षीय दलित हिंदू लड़की को शाहनवाज अपने साथ लखनऊ ले गया था, और वहां उसने 25 दिन तक उसे बंधक बनाए रखा। उसके चंगुल से छूटने के बाद लड़की ने आरोप लगाया है की इस दौरान शाहनवाज उसे धर्म परिवर्तन करके मुसलमान बनने के लिए मजबूर करता रहा। और जब उसने इनकार किया तो उसे बहुत बुरी तरह से पीटा गया। फिर भी जब नहीं मानी तो उसे जिंदा जला दिया गया।

पीड़ित लड़की के अनुसार शाहनवाज से उसकी एक सहेली ने मित्रता करवाई थी। जिसके बाद वह उसे एक ब्यूटी पार्लर में अच्छी नौकरी दिलवाने का झांसा देकर पिछले साल दिसंबर 2022 में उसे अपने पास बुलाया था। पीड़िता के अनुसार जब उसने 3 जनवरी को भागने की कोशिश की तो शाहनवाज ने उसे बेल्ट से बुरी तरह पीटा और फिर उसके ऊपर मिट्टी का तेल डालके आग लगा दी। बता दें कि शाहनवाज के चंगुल में फंसी हुई  युवती ने किसी तरह से अपने परिजनों को फोन करके अपनी आपबीती सुनाई।

जिस पर उसके परिजन तुरंत लखनऊ पहुंच गए और उसे कानपुर ले आए। जहां पर उसे एक निजी नर्सिंग होम में इलाज के लिए भर्ती करवा दिया गया। इसके साथ ही पीड़ित युवती ने पुलिस को भी सूचना दे दी। पीड़ित लड़की की गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे शहर के उर्सला अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया। इसके बाद लड़की की दादी ने गुजैनी पुलिस चौकी में जाकर अपनी शिकायत दर्ज करवा दी। इस वारदात की सूचना मिलने पर पुलिस ने अस्पताल पहुंचकर पीड़ित युवती के बयान दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

इस सारे प्रकरण के बारे में डीसीपी (साउथ) अंकिता शर्मा ने घटना की जानकारी देते हुए बताया है कि: दिनक 24 जनवरी 2023 को एक महिला के द्वारा थाना गुजैनी पर आकर सूचित किया गया था कि उनकी 18 वर्षीय पोती दिसंबर के महीने में लखनऊ पार्लर में नौकरी ढूंढने के लिए गई थी  वहां पर उसकी दोस्ती एक शाहनवाज नाम के व्यक्ति से हो गई थी। जिसके घर में वह कुछ दिन रही। और दोनों के बीच में झगड़ा होने के वजह से दिनांक 3 जनवरी 2023 को शाहनवाज ने उनकी पोती के साथ मारपीट की और उसे तेल डालकर जलाने की कोशिश की।

पुलिस ने बताया

इसके बाद लड़की  का कुछ दिन लखनऊ में उपचार चला, उसके बाद 10 जनवरी 2023 से थाना जूही क्षेत्र के हाशमी हॉस्पिटल में युवती एडमिट थी। यह सूचना पाते ही बेहतर उपचार के लिए उसे युवती को उर्चला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसकी स्थिति अभी सामान्य है। और पूरे प्रकरण का त्वरित संज्ञान लेते हुए थाना गुजैनी पुलिस के द्वारा धारा 326, 323 और एससी एसटी के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत किया गया है। साथ ही दो टीमें लखनऊ के लिए रवाना कर दी गई हैं इस मुकदमे की विवेचना करने के लिए और अभियुक्त की शीघ्र गिरफ्तारी के लिए। पूरे प्रकरण में कठोरतम संवैधानिक कार्रवाई कानपुर पुलिस के द्वारा की जाएगी।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *