Anees ran away after snatching mobile, ASI Shambhu Dayal caught him and took out the dagger “Death”

हौंसले बुलंद हैं शैतान अपराधियों के, इन्हे कानून का कोई खौफ नहीं रहा।

सनातन 🚩समाचार🌎 लगता है देश में पुलिस से ज्यादा अपराधी हो गए हैं। क्योंकि आए दिन होने वाले अपराधों की रफ्तार दिनों दिन बढ़ती ही जा रही है। लोग अक्सर यह कहते हुए सुने जाते हैं कि सारे देश में अवैध बांग्लादेशियों और रोहिंगिया घुसपैठियों के कारण ही इतने अपराध बढ़ गए हैं।

पुलिस के जांबाज ASI शंभू दयाल पर एक झपट मार ने उस समय खंजर से कई वार कर दिए जब वह उसे पकड़ कर थाने ले जा रहे थे, जिसके बाद उन्हें आनन-फानन में अस्पताल में पहुंचाया गया परंतु बुरी तरह से घायल हो चुके एएसआई शंभू दयाल की मौत हो गई।

दरअसल 5 जनवरी 2023 दिन बुधवार को एक महिला ने मायापुरी थाने में जाकर पुलिस को बताया कि उसके पति से एक बदमाश उनका मोबाइल छीन कर भाग गया है। थाना इंचार्ज द्वारा महिला की शिकायत को निपटाने का जिम्मा एएसआई शंभू दयाल को सौंपा गया। जिस पर शंभू दयाल तुरंत पीड़ित महिला को अपने साथ लेकर उस स्थान पर पहुंचे जहां पर उनका फोन छीना गया था। पता चला है कि पीड़ित महिला उन्हें दिल्ली रेवाड़ी रेलवे लाइन के पास बनी झुग्गियों की तरफ ले गई।

वहां पहुंचकर शिकायतकर्ता महिला ने मोबाइल फोन छीनकर भागने वाले झपट मार को पहचान लिया। जिसके बाद शंभू दयाल जी ने तुरंत लपक कर आरोपी को पकड़ लिया, फिर उसे अपने साथ लेकर मायापुरी थाने की ओर ले जाने लगे। इस बीच पकड़ा गया अपराधी एएसआई शंभू दयाल की पकड़ से छूटने के लिए प्रयास करने लगा परंतु जब वह सफल नहीं हो सका तो उसने अपनी शर्ट के नीचे छुपाया हुआ खंजर निकाल लिया। इससे पहले की शंभू दयाल संभाल पाते झपट मार अपराधी ने खंजर से शंभू दयाल जी पर ताबड़तोड़ वार करना करने चालू कर दिए।

उसने ए एस आई की गर्दन कमर और पेट सहित शरीर के कई हिस्सों पर खंजर से वार कर दिए। झपट मार द्वारा घायल किए जाने के बावजूद शंभू दयाल जी ने आरोपी को नहीं छोड़ा और तब तक पकड़े रखा जब तक थाने से उनके और साथी वहां पर नहीं आ गए। इसके बाद मौके पर पहुंचे अन्य पुलिसकर्मियों ने अपराधी को काबू में किया। और साथ ही तुरंत गंभीर रूप से घायल हुए शंभू दयाल जी को अस्पताल में भर्ती करवा दिया।

पता चला है की मोबाइल छीनकर भागने वाले और ए एस आई पर खंजर से वार करने वाले अपराधी का नाम है अनीस है। और वह 24 वर्ष की आयु का है। तथा अपराधी अनीस मायापुरी के फेस – 2 के की झुग्गी नंबर 10 C / 187 में रहता है। निजी अस्पताल में दाखिल करवाए गए शंभू दयाल की तबीयत पहले तो ठीक थी परंतु बाद में अधिक खून बह जाने के कारण उनकी मौत हो गई।

पता चला है कि अपना कर्तव्य निभाते हुए प्राण देने वाले शंभू दयाल की आयु 57 वर्ष की थी और वह राजस्थान के सीकर के रहने वाले थे। उनके परिवार में उनकी पत्नी के अलावा एक बेटा और दो बेटियां हैं। बलिदानी शंभू दयाल जी का अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव गवली बिहारीपुर में किया जाएगा।

मुसीबत ये भी है


इस घटना के बारे में पुलिस ने बताया है कि ASI शंभू दयाल पर ड्यूटी के समय मायापुरी के फेस टू की झुग्गी नंबर 10 / 187 में रहने वाले झपट मार अनीस ने उन पर खंजर से कई वार किए जिससे उनकी मृत्यु हो गई। अब उस पर आईपीसी की धारा 332, 353, 307 के साथ ही आर्म्स एक्ट के अंतर्गत मामला दर्ज किया गया है। तथा अब कानून के अनुसार आगे की बनती कार्रवाई की जा रही है।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *