जी हां ये सत्य है कि हिन्दू भूल जाते हैं और बहुत कुछ बहुत जल्दी भूल जाते हैं।

कुछ लोगों को यह बात बुरी भी लग सकती है, परंतु यह सच है कि हिंदुओं को सब कुछ बहुत जल्दी भूल जाने की आदत है। तो विषय है 5 अगस्त सन 2020 का। हिंदुस्तान और सनातन के इतिहास में इस तारीख का बहुत भारी महत्त्व बन चुका है। क्योंकि सन 2000 की 5 अगस्त वह दिन था जब बहुत सारे बलिदानों के बाद, अपना खून बहाने के बाद और 70 साल निरंतर अदालतों में केस लड़ने के बाद हिंदुओं को यह सौभाग्य मिला था कि वो अयोध्या में भगवान श्री राम जी का मंदिर बना सकें। सुप्रीम कोर्ट में केस जीतने के बाद हिंदुओं द्वारा 5 अगस्त 2020 को भगवान श्री राम जी की जन्म स्थली अयोध्या में भव्य श्री राम मंदिर का निर्माण कार्य आरंभ कर दिया गया था।

दीपमाला की थी, मिठाईयां बांटी थी।

समस्त सनातनियों के लिए यह एक बहुत सुखद और दिव्य दिन था, और सारे विश्व में जहां-जहां भी हिंदू रहते हैं सभी इस दिन बहुत खुश थे। उस दिन सभी सनातनीयों ने अपने घरों में दीपमाला की थी, मिठाईयां बांटी थी। यहां तक की BJP के घोर विरोधी हिंदुओं ने भी खुशियां मनायीं थीं। उसके ठीक 1 साल बाद 5 अगस्त सन 2021 वह दिन था जब सभी हिंदू पिछले साल श्री राम जन्म भूमि मंदिर के हुए शिलान्यास के 1 वर्ष पूरे होने पर खुशियां मना रहे थे। परंतु इसके साथ-साथ एक बहुत बड़ा वर्ग ऐसा भी था/है जिन्होंने कभी भगवान श्री राम जी का मंदिर तोड़ा था और निरंतर राम लला का मंदिर बनने से रोकते रहे।

आजादी के बाद भी निरंतर वह लोग अदालतों में श्री राम मंदिर का विरोध करते रहे और बाहर भी करते रहे। आखिरकार पिछले साल श्री राम मंदिर का शिलान्यास तो हो गया परंतु उन लोगों को चैन नहीं पड़ा जो लोग भगवान श्री राम जी को सहन ही नहीं करते तो ऐसे में जब विश्व के सभी हिंदू भगवान श्री राम जी मंदिर के शिलान्यास के 1 वर्ष पूर्ण होने पर खुशियां मना रहे थे तो ऐसे में उन लोगों ने एक ऐसा संदेश दिया कि वह भले ही विश्व के किसी भी कोने में हो उनका हिंदू धर्म और हिंदू मंदिरों के प्रति वैर कभी कम नहीं होगा।

मंदिर बुरी तरह ध्वस्त कर दिया गया

जी हां ऐसा ही एक संदेश मिला है पाकिस्तान से 5 अगस्त को जहां एक और सभी हिंदू खुशियां मना रहे थे वहीं पर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में हिंदुओं के प्रथम पूज्य भगवान श्री गणेश जी के नाम पर बना हुआ मंदिर बुरी तरह ध्वस्त कर दिया गया, उसमें आग लगा दी गई। इस सारी घटना को सोशल मीडिया पर भी डाल दिया गया ताकि यह घूम फिर कर उन सभी हिंदुओं के पास पहुंच जाए जो श्री राम मंदिर की खुशियां मना रहे हैं। सोशल मीडिया में वायरल हो रही वीडियो में स्पष्ट देखा जा सकता है कि यहां हिंदू विरोधी, हिंदू धर्म विरोधी, हिंदू मंदिर विरोधी लोग किस तरह से सुनियोजित ढंग से मंदिर को ध्वस्त कर रहे हैं। मंदिर में स्थित पवित्र मूर्तियों को तोड़ा जा रहा है।

मिली जानकारी के अनुसार हिंदुओं का यह श्री गणेश मंदिर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के रहीम यार खान के पास स्थित ढोंग शहर में है। हिंदुस्तान में वीडियो के वायरल होने के बाद से समस्त सनातनियों में जबरदस्त रोष व्याप्त हो रहा है। तथा यह भी बताया जा रहा है कि भारत सरकार ने इस बारे में पाकिस्तान सरकार से कड़ा एतराज जताया है तथा पाकिस्तान दूतावास के उच्चायुक्त को भी बुलाया गया है। अब यहां पर बड़ा सवाल यह उठता है कि आखिर यह मंदिर क्यों तोड़ा गया ? यही नहीं बल्कि पिछले बहुत सालों से निरंतर हिंदुओं के मंदिर क्यों तोड़े जाते रहे हैं ? सारे विश्व में तो हिंदुओं के मंदिर ध्वस्त कर ही दिए गए हिंदुस्तान में भी काशी विश्वनाथ जी का मंदिर, भगवान श्री कृष्ण जी की जन्म स्थली का मंदिर, भगवान श्री राम जी के जन्म स्थान का मंदिर, भगवान श्री सोमनाथ जी का मंदिर सहित ऐसे अनेकों स्थान हैं जहां पर हिंदुओं के मंदिरों को तोड़ दिया गया।

और दुर्भाग्य से यह सिलसिला आज भी नहीं रुका है। आज भी ऐसा कोई दिन शायद ही निकलता हो जिस दिन हिंदुस्तान के किसी ना किसी कोने में कोई ना कोई मंदिर अथवा मंदिर की मूर्ति ना तोड़ी जाती हो। बता दें कि देश की राजधानी दिल्ली का ऐसा कोई भी वार्ड नहीं है जिसमें हिंदू मंदिर न तोड़ा गया हो। आखिर इसके पीछे क्या कारण हैं और इसका जिम्मेवार कौन है ?

इस बारे में जानिए सनातन समाचार के “मुख्य संपादक अशवनी कुमार” के विचार – साथ दी गई वीडियो में।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *