Government school – Dalit girl students – Sexual abuse – Child – Condom – Shazia helping the devil Muhammad Ali.”

फेल कर देने की धमकी देकर केवल हिंदू लड़कियों का शिकार करता था मोहम्मद अली।

सनातन 🚩समाचार🌎 उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले में पढ़ते तिलहर थाना क्षेत्र के राय खुर्द इलाके में बहुत सारे परिवारों में उस समय हड़कंप मच गया जब उनकी बेटियों ने उन्हें बताया कि उनके साथ स्कूल में यौन शोषण किया जा रहा है। जिसके बाद ग्राम प्रधान की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

विवरण ……..

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिला के तिलहर थाना क्षेत्र के एक स्कूल में 13 बच्चियों के यौन शोषण का सनसनीखेज मामला सामने आया है। इन पीड़ित छात्राओं में से कुछ छात्राएं दलित समुदाय की भी हैं। इस सारे घटनाक्रम के बारे में बताते हुए स्कूल में पढ़ाने वाली नीरजा नाम की एक अध्यापिका ने बताया है कि यह घटना सत्य है। उन्होंने कहा है की बच्चियां मुझे अपना समझती हैं, क्योंकि मैं उन्हें इसी प्रकार सिखाती हूं कि कोई गलत तरीके से स्पर्श करें तो तुरंत मुझे बताएं।

इसलिए पीड़ित बच्चियों ने सबसे पहले मुझे बताया कि उनके साथ स्कूल में कंप्यूटर सिखाने वाला मोहम्मद अली नाम का एक अध्यापक गंदे तरीके से छेड़छाड़ कर रहा है। अध्यापिका के अनुसार मोहम्मद अली के द्वारा स्कूल में लव जिहाद चलाया जा रहा है। मोहम्मद अली बच्चियों को उनकी बात ना मानने पर फेल कर देने की धमकियां देता था, और उनके प्राइवेट पार्ट को छूता था, उन्हें नोचता खसोटता भी था। उन्होंने आगे बताया कि सभी पीड़ित लड़कियां अलग-अलग क्लास की हैं।

उनका कहना है कि मैंने इस बारे में प्रिंसिपल से भी बात की किंतु उसने कुछ नहीं किया। तब मैंने बच्चों से कहा कि तुम इस बारे में अपने माता-पिता को बताओ तभी मैं कुछ कर पाऊंगी, तो बच्चियों ने हौसला करके अपने परिजनों को सब बातें बता दीं। जिसके बाद मोहम्मद अली की करतूत का भंडाफोड़ हो गया है। पता चला है कि आरोपी मोहम्मद अली स्कूल में कंप्यूटर टीचर के पद पर तैनात है। यह भी आरोप है कि इस सारे प्रकरण में स्कूल की सहायक अध्यापिका शाजिया अली लड़कियों के यौन शोषण में लगातार मोहम्मद अली का सहयोग देती थी, और लड़कियों पर दबाव बनाती रहती थी कि वह किसी को कुछ ना बताएं।

सूत्रों की माने तो पीड़ित लड़कियों की संख्या अधिक हो सकती है किंतु केवल 13 बच्चियां ही अपने साथ हो रहे यौन शोषण के बारे में बताने को सामने आई हैं। पुलिस के अनुसार इस मामले में 3 आरोपियों पर केस दर्ज करके जांच शुरू कर दी गई है और मुख्य आरोपी मोहम्मद अली को गिरफ्तार भी कर लिया गया है। एक जानकारी के अनुसार विभागीय कार्रवाई के चलते मोहम्मद अली की बर्खास्तगी की कार्रवाई भी शुरू हो चुकी है। इस बारे में स्कूल के एक अन्य शिक्षक ने कहा है कि मोहम्मद अली केवल हिंदू बच्चियों को ही अपना निशाना बनाता था।

मामला सामने आने पर जब पुलिस ने जांच पड़ताल की तो स्कूल के बाथरूम से ब्लेड, बाल और कंडोम भी मिलने के बारे में बताया गया है। इस घटनाक्रम के बारे में तिलहर के डिप्टी एस पी प्रियंक जैन ने बताया है कि इस मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद कानून के अनुसार आगे की बनती कार्रवाई की जाएगी। पुलिस द्वारा आरोपियों पर आईपीसी की धारा 352, 354, 120 बी, एससी/एसटी और पोक्सो एक्ट के अंतर्गत कार्रवाई की गई है। एक अन्य जानकारी के अनुसार स्कूल के प्रिंसिपल और मोहम्मद अली की सहायक अध्यापिका शाजिया को भी सस्पेंड कर दिया गया है।

यहां पर बड़ा सवाल ये पैदा होता है की आखिर हिंदुओं की लड़कियों का क्या कसूर है और शैतान क्यों हिंदुओं की लड़कियों को बर्बाद कर देना चाहते हैं ??

ये बटन टच करें खबर शेयर करें👇

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *