"What the MLA of Right to Recall Party said in the interview is really tremendous? Make a decision"
क्या इससे देश का बहुत बड़ा भला होने वाला है
सनातन🚩समाचार🌎 द्वारा कभी भी कोई राजनीतिक बात नहीं की जाती है, परंतु आज जब हमें एक ऐसा उम्मीदवार मिला जो देश में एक अनोखी और नई व्यवस्था को लाना चाहता है तो हम से रहा नहीं गया और उसका साक्षात्कार हमने ले लिया। सनातन समाचार के द्वारा यह किसी का भी पहला साक्षात्कार लिया गया है।

इस उम्मीदवार का नाम है "सुमित कुमार" जो पंजाब के लुधियाना में दक्षिणी इलाका से "राइट टू रिकॉल पार्टी" के उम्मीदवार हैं। बता दे की वर्तमान में पंजाब में पूरी तरह चुनावों का दौर चल रहा है और आगामी 20 फरवरी 2022 को लोग अपने मतों का प्रयोग करेंगे। ऐसे में इस युवा और उत्साही उम्मीदवार ने हमारे सवालों के उत्तर में क्या-क्या कहा आप भी जाने वह सब ....

जब हमने राइट टू रिकॉल पार्टी के एमएलए पद के प्रत्याशी सुमित कुमार से पूछा कि आपकी पार्टी का एजेंडा क्या है ?  आपके किन मुद्दों को लेकर चुनाव लड़ रहे हैं तो उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य केवल एक ही है की चुनावों में आम लोग वोट डालकर जो शक्ति अपने किसी भी पार्षद, एमएलए, मंत्री अथवा किसी को भी दे देते हैं।
राइट टू रिकॉल पार्टी का एजेंडा लोगों को यह अधिकार देगा कि आप लोग वोट तो डालें परंतु आपके वोट की शक्ति अपके अपने ही पास रहनी चाहिए। उन्होंने आगे बताया किअगर आपके द्वारा चुना गया नेता सही काम नहीं करता है तो आपके पास अपना दिया गया वोट रद्द करने का अधिकार होगा, तथा उसके स्थान पर किसी अन्य कर्मठ अथवा ईमानदार व्यक्ति को नियुक्त करने का अधिकार भी होगा।

इस सारी प्रक्रिया में पुनर्मतदान नहीं होगा बल्कि आप अपने इलाका के पटवारी के पास जाकर अथवा ऑनलाइन पहले चुने गए उम्मीदवार को रद्द कर पाएंगे और किसी भी नए उम्मीदवार का चयन कर पाएंगे। उन्होंने ज्यूडिशरी सिस्टम के बारे में भी यही बात कही की अगर अदालत का कोई निर्णय आपको गलत लगता है तो आप अपने अधिकार का प्रयोग करके अपने लिए उचित न्याय पा सकेंगे। जब उनसे पूछा गया कि आपकी पार्टी सर्कुलर है अथवा धार्मिक तो उन्होंने स्पष्ट किया कि हम पूरी तरह से धार्मिक हैं। हम शीघ्र ही एक हिंदू बोर्ड का भी गठन करने वाले हैं जो यह देखेगा की मंदिरों मैं जो दान राशि आती है क्या वह मंदिरों पर ही खर्च करी जाती है या नहीं ?

जब सनातन समाचार ने उनसे बुरी स्थिति में बदहाल घूम रही लावारिस गायों की चर्चा की तो उन्होंने कहा इस बारे में जो सरकार के पास जो कॉसेस के नाम पर करोड़ों रुपया जमा है उसको पूरी तरह से गौ माता के ऊपर ही खर्च करवाया जाए इस बात का भी प्रावधान इसी वोट वापसी सिस्टम में ही है। क्योंकि जो भी अधिकारी इसमें पशुपालन विभाग का मुखिया है अगर वह  गायों की सही तरह से देखभाल नहीं करता है तो लोग तुरंत वोट वापसी सिस्टम के अंतर्गत ही उस पशुपालन मंत्री को भी निरस्त कर पाएंगे। और भी बहुत सारी ऐसी बातें उन्होंने अपने साक्षात्कार में बताई जो अपने आप में नई बातें हैं और वास्तव में लगता भी है कि वह देश के लिए लाभदाई भी होंगी।

परंतु सनातन समाचार इस राजनीतिक पार्टी के ना पक्ष में है ना विरोध में है। राइट टू रिकॉल पार्टी के नाम पर चुनाव लड़ रहे सुमित कुमार ने जो जो बताया वह सब जो का त्यों आपको बता दिया गया है। अब निर्णय आपने करना है कि उनकी बातें सही है या गलत ? क्योंकि आप सूझवान हैं, आप वोट देकर देश के भविष्य का निर्धारण करने वाले हैं अतः इस खबर के साथ दिए गए वीडियो को भी अवश्य देखें।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *