“Mazari Dhami wreaks havoc on Hindus, bulldozers have started running on the tombs.”

लगभग सारा उत्तराखंड अवैध मजारों से भर जाने के बाद अब सरकार आई एक्शन में।

सनातन 🚩समाचार🌎 देवभूमि उत्तराखंड में एक तरफ जहां धड़ाधड़ अवैध मजारे उग रही हैं वहीं दूसरी ओर इन मजारों को लेकर हिंदू समाज में काफी तनाव का माहौल बना हुआ है। इस बीच खबर आ रही है कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की सरकार का बुलडोजर आखिरकार अवैध बनी हुई मजारों को ध्वस्त करने में लग गया है। पता चला है कि अभी तक 15 मजारों को जड़ से उखाड़ दिया गया है। बता दें कि इन तोड़ी गई मजारों के नीचे में से कोई भी मुर्दा नहीं निकला है।

ये चर्चे हैं की एक सोची-समझी रणनीति के चलते उत्तराखंड की डेमोग्राफी को बदल देने के लिए यहां पर अवैध घुसपैठिए बांग्लादेशियों और रोहिंग्या मुसलमानों को बसाया जा रहा है। जिन्होंने जंगलों में बेतहाशा कटान करके वहां पर जगह-जगह मजारे बना दी हैं। जिस कारण देवभूमि उत्तराखंड में अपराध तो बड़े ही हैं साथ ही लव जिहाद इत्यादि की घटनाएं भी बहुत तेजी से बढ़ी हैं। सारे देश में उत्तराखंड के जंगलों में बनी अवैध मजारों के चर्चे होने के बाद अब यह कार्यवाही चालू कर दी गई है।

दरअसल मुख्यमंत्री धामी ने एक महीना पहले सरकारी जमीनों पर बनाई गई अवैध मजारों को हटाने की चेतावनी दी थी। जिसके बाद वन विभाग ने अवैध मजारों को ध्वस्त करने का काम शुरू कर दिया है। वन विभाग के अनुसार गढ़वाल में कालसी वन प्रभाग में 5 मजारे तोड़ी गई हैं और हरिद्वार के श्यामपुर फॉरेस्ट रेंज में 5 मजारों को तोड़ दिया गया है। इसके साथ ही रुद्रप्रयाग फॉरेस्ट डिवीजन में एक तथा श्री केदारनाथ यात्रा मार्ग के रास्ते में उगी हुई मजार को भी तोड़ा गया है।

जंगलों में बनी हुई अवैध मजारों को तोड़ने के अभियान के बारे में नोडल आई एफ एस अधिकारी डॉ पराग मधुकर ने कहा है कि मुख्यमंत्री जी के निर्देशों के चलते अभी तक 230 अवैध मजारे तोड़ दी गई हैं और इसके साथ ही 40 हेक्टेयर से अधिक जंगलात विभाग की भूमि से अवैध अतिक्रमण भी हटा दिए गए हैं।

आपको याद दिला दें कि वास्तव में मजार वह होती है जहां पर किसी मरे हुए व्यक्ति को गाड़ कर उसके ऊपर एक चबूतरा सा बना दिया जाता है, किंतु वर्तमान में सारे देश में सुरक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण राजमार्गों और रेल मार्ग के किनारे 20- 50 ईंटों को जोड़के उस पर हरा कपड़ा डालकर पहले छोटी सी मजार बनाई जाती है जो देखते ही देखते एक बड़ा आकार ले लेती है।

ये बटन टच करें खबर शेयर करें👇

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *