There is a lot of life in the legs of secular Hindus, so now they will run away from here, the only “fodder” is to go to the Indian Ocean.”

भागते भागते थकते ही नहीं हिंदू – ये प्रॉपर्टी बिकाऊ है।

सनातन🚩समाचार🌎यह प्रमाणिक है कि हिंदू कभी सारे विश्व का एक सम्राट हुआ करते थे, परंतु ना जाने किन कारणों से हिंदुओं ने भागना चालू किया और इतना भागे कि भागते भागते सारी दुनिया से हिंदुओं का नामोनिशान मिट गया है। छोटे से बचे टुकड़े में से पाकिस्तान और बांग्लादेश में से हिंदू खत्म फिर छोटा सा टुकड़ा बचा उसमें से कश्मीर, कैराना, मेवात और भी ना जाने कहां-कहां से हिंदू अब खत्म हो चुके हैं। मजे की बात यह है की हिंद इतना ज्यादा भाग चुके हैं कि थक भी नहीं रहे हैं। बहुत ज्यादा ताकत है हिंदुओं की टांगों में।

हिंदू यहां से भी भागने की तैयारी में हैं

अब इस भागने की कड़ी में एक और नाम जुड़ गया है करौली का। बताने की आवश्यकता नहीं है कि राजस्थान के करौली में जब हिंदुओं ने अपने नए साल के आरंभ होने की खुशी में एक बाइक रैली निकाली थी तब उस पर भयंकर हमला कर दिया गया था, तथा साथ ही हमला करने वाले लोगों ने बहुत सारी दुकानें और मकान भी जला डाले थे। इस सब के बाद बजाएं अपनी जन्मभूमि पर डटे रहने के अब हिंदू यहां से भी भागने की तैयारी में हैं और बकायदा अपने हाथों में पोस्टर लेकर खड़े हो गए हैं। जिन पर लिखा हुआ है कि यह प्रॉपर्टी बिकाऊ है। हर जगह की तरह अब करौली के हिंदू परिवारों में भी डर का माहौल है।

पलायन करने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं

उनके पास अब अपनी जायदाद बेचने के अलावा और कोई और चारा नहीं बचा है अगर देखा जाए अगर इस भागने की प्रक्रिया की जड़ में केवल दो ही चीज निकल कर सामने आती है वह है हिंदुओं का सर्कुलरपना और जातिवाद। बहरहाल बात करते हैं करौली की : यहां पर एक हिंदू दुकानदार ने बताया है कि अब हमारे पास पलायन करने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं बचा है, हमारा बहुत नुकसान कर दिया गया है। कारोबार में हमने जो लेनदेन किया था उस कारण अब हमें उधारी का पैसा चुकता करने के लिए यह प्रॉपर्टी तो बेचनी पड़ेगी ही, जो लोग हम से उधार ले गए हैं वह तो अब हमें देंगे नहीं क्योंकि अब हमारी दुकान ही नहीं रही है।

हमारी दुकानों को जला दिया

उसने आगे बताया है कि इस दहशत के माहौल में अब हम नहीं जी सकते इसलिए अब हमने यहां से पलायन करने का निर्णय किया है। क्योंकि यह लोग आगे भी हमारे साथ बहुत कुछ कर सकते हैं। इस मौके पर उपस्थित एक व्यक्ति ने कहा है कि यहां फिर कभी भी हिंसा हो सकती है, हैं यहां पर नहीं रहना है। एक और हिंदू दुकानदार ने कहा कि मैं यहां नहीं रहूंगा मेरे अंदर इन लोगों का डर बैठ चुका है। यह हमें कभी भी मार सकते हैं हमारी जान को खतरा है। हेमंत अग्रवाल नाम के एक दुकानदार ने अपनी अपना दर्द बताते हुए कहां है कि हमारी दुकानों को करौली में जला दिया गया है, सारा सामान लूट लिया गया है, अब हम यहां नहीं रहेंगे यहां से चले जाएंगे,और वे लोग हमें यहां पर रहने भी नहीं देंगे।

हमने हमेशा “भाईचारा” बनाए रखा

एक अन्य दुकानदार ने बताया है 2 अप्रैल को लगभग 3 – 4 बजे के बीच मुस्लिम दुकानदारों ने अपनी दुकानें बंद करना शुरू कर दिया था उसके बाद 6:30 बजे के लगभग जब बाजार में भीड़ जमा होने लगे तो हमने भी अपनी दुकानों को बंद करना शुरू कर दिया तो मुस्लिम लोगों ने हमे अपनी दुकानें बंद नहीं करने दीं। हमें जान से मारने की धमकी दी गई, फिर उन लोगों ने हमारी दुकानों को लूटा और उनमें आग लगा दी। यह सभी लोग बार-बार एक ही बात कह रहे थे की अब हम यहां से चले जाएंगे। हमने हमेशा “भाईचारा” बनाए रखा लेकिन हमें क्या पता था कि यही लोग हमारे साथ इतना भयंकर काम करेंगे।

आंखे खोलेगी ये वीडियो

आपको बता दें की राजस्थान के करौली में हिंदू नव वर्ष के उपलक्ष में बाइक रैली के मौके पर भयंकर हिंसा की गई थी इसमें कई लोग घायल हो गए कईयों को चाकुओं से गोदा गया तब इस हो रहे बवाल को रोकते पुलिस के भी 4 लोग घायल हो गए थे। यह एक बहुत अचंभे की बात है कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है और वहां की पुलिस भी कांग्रेस सरकार के ही कंट्रोल में है परंतु राजस्थान के मुख्यमंत्री गहलोत ने इस हुए भीषण कांड का सारा ठीकरा बीजेपी पर ही फोड़ दिया है।

हिंदुओं के लगातार जगह-जगह से भागने की हो रही घटनाओं से एक प्रश्न तो सामने आता ही है कि आखिर हिंदू कब तक सेकुलर बने रहेंगे ? क्योंकि यह सेकुलर नाम की बीमारी ही हिंदुओं का सर्वनाश किए जा रही है।

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *