ध्यान शांति एकाग्रता स्वस्थ जीवन और प्रसन्न जीवन प्रत्येक व्यक्ति की मांग है।

वर्तमान की आपाधापी में जबकि मनुष्य कई तरह के तनावों से ग्रस्त हैं, कभी कारोबार के तनाव कभी नौकरी धंधा की चिंता तो कभी पारिवारिक व्यवस्थाओं की चिंता। इन सबके चलते कई बार ऐसा लगता है कि मनुष्य केवल एक यंत्र बनकर रह गए हैं, जिनका लक्ष्य केवल कमाना खाना, परिवार को खिलाना मात्र है। और यह सब करते करते तनाव चिंता अस्वाद खिन्नता में डूबे रहना ही जीवन बन गया है।

इस भागा दौड़ी में यह भी पता नहीं चलता कि कब सुबह हुई कब दोपहर कब रात्रि बस केवल चिंता और तनाव ही तनाव रहने लगा है। आवश्यक नहीं कि यह स्थिति सभी मनुष्यों की हो सकती है, परंतु अधिकतर थोड़ा कम या ज्यादा लगभग सभी की यही स्थिति है। तो ऐसा क्या करें कि इस सब से थोड़ा विश्राम मिले मन शांत रहे और प्रसन्न भी रहे तथा इसके साथ ही शरीर में ऐसी स्फूर्ति भी आए की जिससे स्वस्थ रहते हुए अपने लक्ष्य को प्राप्त किया जा सके।

प्रतिदिन स्नान इत्यादि से निवृत होकर सुखासन में बैठ कर इसे सुने अथवा इसके साथ साथ उच्चारण भी करें। ध्यान स्वतः होने लगेगा।

तो ऐसे में सबसे प्रभावशाली विधि है “ध्यान”

ध्यान सनातन धर्म मे एक ऐसी अध्यात्मिक प्रक्रिया है जिस में डूब कर मनुष्य आनंद के अथाह सागर में गोते लगाता है, परमानंद और शांति का अनुभव करता है, जिससे मानसिक थकान तो मिटती ही है साथ ही शारीरिक थकान भी मिट कर पुनः और तेजी से अपने सांसारिक कार्य और व्यवसाय करने की शक्ति प्राप्त होती है। शास्त्रों में ध्यान को सर्वसरेष्ठ तप भी कहा गया है। ज्यों ज्यों साधक ध्यान में परिपक्व होता जाता है त्यों त्यों उसके सामने अध्यात्म अथवा संसार के गूढ़ रहस्य प्रकट होते जाते हैं। ध्यान अपने आप मे एक अथाह समुद्र है जिसकी गहराई को नापा नहीं जा सकता है। अतः ये अति आवश्यक है कि मनुष्य को संसार के सारे काम करते हुए भी प्रतिदिन ऐसा कोई समय निकाल ही लेना चाहिए जो केवल और केवल उसके अपने लिए हो। शांति के लिए हो। नए उत्साह के लिए हो।।

🚩🕉️🌷🕉️🌷🕉️🚩

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *