Kerala Story” – Dasna – A Muslim boy and girl entered Shakti Peeth as a shield for a minor Hindu girl trapped in the trap, Yeti Narasimhanand ji said this…..

ये पहली बार नहीं हुआ है, इससे पहले भी हो चुके हैं ऐसे प्रयास, नरसिंहानंद जी पे हैं दुनियां के सबसे बड़े फतवे।

सनातन 🚩समाचार🌎 केरला स्टोरी की कहानी पूरे देश में चल रही है, और तेजी से चल रही है। इसका ताजा उदाहरण गाजियाबाद के डासना में पढ़ते शिव शक्ति सिद्ध पीठ में उस समय देखने को मिला जब एक मुसलमान लड़का और लड़की एक हिंदू लड़की को ढाल बनाकर मंदिर में घुसने में सफल हो गए जबकि उस मंदिर के मुख्य द्वार पर लगे हुए बोर्ड पर साफ लिखा है कि यह हिंदुओं का पवित्र मंदिर है यहां पर मुस्लिमों का घोषणा मना ह

विवरण ………

उत्तर प्रदेश गाजियाबाद में पढ़ते डासना में स्थित शिव शक्ति धाम से प्राप्त हुई जानकारी के अनुसार शिव शक्ति धाम में एक नाबालिग हिन्दू लड़की अपने आधार कार्ड पर शिवशक्ति धाम डासना में एक मुस्लिम लड़के को और एक मुस्लिम लड़की को रेकी करवाने के लिये लेकर आई।

मंदिर के अनुसार केरला स्टोरी नामक फ़िल्म में जो दिखाया गया है, वो केवल केरल की कहानी नही है बल्कि इस्लामिक जिहादी देश के हर कोने में इस कहानी को दोहरा रहे हैं।

आज भारतवर्ष के सबसे ज्यादा संवेदनशील हिन्दू तीर्थ शिवशक्ति धाम डासना में डासना की ही रहने वाली एक नाबालिग लड़की एक मुसलमान और एक मुस्लिम लड़की को रेकी करवाने के लिये मन्दिर में लेकर आई। बताने की आवश्यकता नहीं है की शिवशक्ति धाम डासना के पीठाधीश्वर व श्री पंचदशनाम जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी जी सम्पूर्ण विश्व के इस्लामिक कट्टरपंथियों के निशाने पर हैं। जिस कारण शिवशक्ति धाम डासना में 24 घण्टे पुलिस का पहरा रहता है।

पता चला है की लड़की के परिवार के लोग प्रतिदिन मन्दिर में आते हैं इसीलिए लड़की मन्दिर की सुरक्षा व्यवस्था से पूरी तरह परिचित थी। उसने अपने आधार कार्ड पर इन दोनों को मन्दिर में प्रवेश कराया। मन्दिर सुरक्षा में लगे पुलिस कर्मियों ने तो उन्हें अंदर जाने दिया, परन्तु शिवशक्ति धाम डासना के सेवादारों की पारखी नजरों से हिंदू लड़की के साथ आया मुस्लिम लड़का और लड़की बच नहीं पाए। बता दें की इससे पहले भी जितने भी इस्लामिक घुसपैठिए शिवशक्ति धाम डासना में पकड़े गए हैं, वो हमेशा सेवादारों ने ही पकड़े हैं। पुलिस तो हमेशा इस तरह के मामलों को रफा दफा की करने में विश्वास रखती है।

केरला स्टोरी का ये भी ट्रेलर


इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के व्यक्तिगत रुचि लेने के कारण इसी तरह की एक घटना के बाद शिवशक्ति धाम डासना से सबसे बड़ा धर्मांतरण गिरोह पकड़ा गया था। मंदिर परबंधको के अनुसार अगर आज की घटना की भी ठीक से जांच की गई तो बहुत कुछ सामने आएगा।

उधर इस बारे में सनातन 🚩समाचार🌎 से बात करते जब शिवशक्ति धाम डासना के पीठाधीश्वर व श्री पंचदशनाम जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी जी ने बताया कि पकड़े गए लड़के का नाम मोहसिन है, जिसकी आयु लगभग 24-25 साल है। वह अपने परिवार के साथ मंदिर में आने वाली हिन्दू लड़की के आधार कार्ड पर मंदिर में घुस जाए था। उन्होंने आगे बताया की मोहसिन मंदिर में सुरक्षा के पुलिस वाले चक्र को पार कर चुका था, किंतु उनके निजी अंगरक्षकों की चेकिंग में वह पकड़ा गया।

यती जी ने बताया कि उन्होंने पुलिस को कोई शिकायती पत्र नहीं दिया है। यति नरसिंहानंद जी के अनुसार तलाशी के दौरान उन तीनों में कोई हथियार बरामद नहीं हुआ है। उन्होंने आरोप लगाया कि मोहसिन और नाबालिग मुस्लिम लड़की ने अपनी पहचान छिपाने के लिए अपने आधार कार्ड की एंट्री नहीं करवाई थी।

इस घटना के बारे में गाजियाबाद पुलिस के ACP सिटी ने 1 आधार कार्ड पर मंदिर में 3 लोगों की एंट्री की बात स्वीकारी है। उन्होंने बताया कि तीनों से पूछताछ कर के कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

ये बटन टच करें खबर शेयर करें👇

हिंदू द्रोही मीडिया के लिए बहुत फंडिंग है, किंतु हिंदुत्ववादी मीडिया को अपना खर्चा चलाना भी मुश्किल है। हिंदुत्व/धर्म के इस अभियान को जारी रखने के लिए कृपया हमे DONATE करें। Donate Now या 7837213007 पर Paytm करें या Goole Pay करें।

By Ashwani Hindu

अशवनी हिन्दू (शर्मा) मुख्य सेवादार "सनातन धर्म रक्षा मंच" एवं ब्यूरो चीफ "सनातन समाचार"। जीवन का लक्ष्य: केवल और केवल सनातन/हिंदुत्व के लिए हर तरह से प्रयास करना और हिंदुत्व को समर्पित योद्धाओं को अपने अभियान से जोड़ना या उनसे जुड़ जाना🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *